नीतू की शादी को अभी एक साल भी नहीं हुए हैं. नीतू ने अभी ग्रेजुएशन भी पूरा नहीं किया है. उन्होंने बीए फाइनल का एग्जाम दिया है. बीए का एग्जाम देने वाली नीतू सबसे कम उम्र की प्रत्याशी हैं लेकिन प्रखंड में उन्होंने सबसे अधिक मतों से चुनाव जीतने का रिकॉर्ड बनाया है.

बिहार पंचायत चुनाव में महिलाओं का बोलबाला हर जगह देखने को मिल रहा है. ऐसा ही एक मामला पटना से सटे खुसरूपुर प्रखंड से जुड़ा है जहां के हरदास बीघा पंचायत की मुखिया मात्र 21 वर्ष की नीतू कुमारी बनी हैं. खास बात ये है कि मुखिया बनी नीतू बीए फाइनल वर्ष की छात्रा हैं लेकिन उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी उमीदवार को 2 हजार से अधिक वोटों से हराया है

नीतू की शादी को अभी कुछ ही दिन हुए हैं और वो गृहस्थ जीवन के साथ साथ राजनीतिक जीवन मे भी तालमेल बिठाकर काम करने की इच्छा रखती हैं. नीतू ने अभी ग्रेजुएशन भी पूरा नहीं किया है. उन्होंने बीए फाइनल का एग्जाम दिया है. बीए का एग्जाम देने वाली नीतू सबसे कम उम्र की प्रत्याशी हैं लेकिन प्रखंड में उन्होंने सबसे अधिक मतों से चुनाव जीतने का रिकॉर्ड बनाया है.

Leave a Reply