कहते हैं कि मंजिल पाने की ललक हो तो हर सफर मुमकिन है। इंटर परीक्षा परिणाम में पंजवारा प्लस टू हाईस्कूल के स्वतंत्र छात्र राजेश मंडल ने कुछ ऐसा ही कारनामा कर दिखाया है। राजेश ने 39 साल की उम्र में इंटर परीक्षा प्रथम श्रेणी से पास कर दिखाया है।

वह भी मैट्रिक पास करने के 23 साल बाद। अपने साथ-साथ पत्नी व साली की सफलता का भी वाहक बना है। राजेश ने आट्र्स में 402 अंक हासिल किया है। पत्नी चांदनी कुमारी 392 अंक के साथ प्रथम श्रेणी से पास कर गई है। साथ ही इनकी साली पूनम कुमारी ने भी 380 अंक हासिल किया।

राजेश ने बताया कि वह काफी खुश है। 1999 में मैट्रिक पास करने के बाद गोड्डा में रहकर व्यवसाय शुरू कर दिया था। लंबे अंतराल के बाद पढाई के लिए एक मित्र ने प्रेरित किया। पंजवारा विद्यालय प्रधान विमल कुमार से मिलने के बाद इनके सकारात्मक सहयोग ने हमारा जोश बढ़ाया। आगे डिग्री की पढ़ाई भी हम पति-पत्नी जारी रखेंगे।

तुफान ने साइंस में लाया 434 अंक

संवाद सहयोगी, बौंसी (बांका)। इंटरमीडिएट परीक्षा में तिवारीचक गांव निवासी सुयोधन पासवान के पुत्र तूफान कुमार ने विज्ञान में 434 अंक हासिल कर प्रखंड का मान बढ़ाया है। पिता ने बताया कि आर्थिक स्थिति ठीक नहीं रहने के बावजूद भी अपने पुत्र को भागलपुर के टीएनबी कालेज में पढ़ा लिखा कर शिक्षा दिला रहा हूं। पुत्र के अच्छे अंक आने पर गर्व हो रहा है। वहीं एलएनडी प्रोजेक्ट बालिका विद्यालय की छात्रा मिश्राचक गांव की देवेंद्र मिश्रा की पुत्री सपना मिश्रा ने विज्ञान से ही 391 अंक प्राप्त कर स्कूल टापर रही है। छात्रा की सफलता पर प्रधानाध्यापिका डा सरिता कुमारी ने बधाई दी है ।

Leave a Reply