पटना. नीट का रिजल्ट अब तक बिहार संयुक्त प्रतियोगिता प्रवेश परीक्षा पर्षद (बीसीइसीइबी) को प्राप्त नहीं हुआ है. राज्य की 85 प्रतिशत सीटों पर एडमिशन के लिए बीसीइसीइबी काउंसेलिंग प्रक्रिया आयोजित कराता है. बीसीइसीइबी के ओएसडी अनिल कुमार सिन्हा ने कहा कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की ओर से जैसे ही रिजल्ट मिलेगा, तुरंत काउंसेलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू कर दी जायेगी.

इस बार सरकारी मेडिकल कॉलेजों में 1200 सीटों और प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में 900 सीटों पर एडमिशन होना है. मेडिकल काउंसेलिंग कमेटी (एमसीसी) की वेबसाइट mcc.nic.in पर जाकर केंद्रीय कोटे के तहत एडमिशन के लिए काउंसेलिंग में शामिल हो सकते हैं. हालांकि, अब तक एमसीसी ने भी 15 प्रतिशत सीटों पर एडमिशन के लिए काउंसेलिंग की तिथि जारी नहीं की है.

मेडिकल व इंजीनियरिंग में 33 प्रतिशत सीटें लड़कियों के लिए आरक्षित

महिला शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों की 33 फीसदी सीटें लड़कियों के लिए आरक्षित की गयी. इसी कड़ी में संघ लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक परीक्षा में अब किसी भी वर्ग की लड़की के सफल होने पर आगे की तैयारी के लिए एक लाख रुपये और बिहार लोक सेवा आयोग की प्रारंभिक परीक्षा पास करने वाली महिलाओं को 50 हजार रुपये की सहायता देने का फैसला लिया गया. सरकार ने इंटर पास अविवाहित लड़कियों को 25 हजार और स्नातक पास अविवाहित या विवाहित महिलाओं को भी 50 हजार रुपये का प्रोत्साहन भत्ता देने का महत्वपूर्ण फैसला लिया.

Leave a Reply