बक्सर में एक दुल्हन शादी के 4 दिन के बाद ही ससुराल से 4 लाख कैश और ढाई लाख के जेवर लेकर फरार हो गई। महिला के दिव्यांग पति धनेश्वर तिवारी ने बताया कि 3 दिन तक तो सब ठीक रहा, लेकिन इसके बाद वो लूट कर भाग निकली। पति का कहना है कि उसकी पहले से शादी भी हो चुकी थी। और वो उसी के साथ भाग गई।

मामला बगेन थाना क्षेत्र के कुरुथियां गांव का है। शुक्रवार की रात महिला के पति ने थाने में दुल्हन ज्योति कुमारी समेत 3 लोगों के खिलाफ नामजद FIR कराई है। कहा है कि लड़की पहले से शादीशुदा थी, लेकिन मुझे ठगने की नियत से दुबारा शादी की। फिर मौका देख गहने और कैश लेकर फरार हो गई।

पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए…

धनेश्वर की 27 मई को भोजपुर जिले के मुफस्सिल थाना के जमीरा गांव निवासी स्वर्गीय वीरेंद्र पांडे की पुत्री ज्योति कुमारी के साथ हुई थी। शादी के बाद दुल्हन बनकर ज्योति अपने ससुराल आई। 4 दिन बाद 31 मई की रात धनेश्वर के छोटे भाई का तिलक समारोह था। इसमें ज्योति के भाई, चाचा-चाची और मौसा-मौसी सहित एक अन्य युवक भी आया था।

पति ने दर्ज FIR में कहा गया है कि तिलक समारोह संपन्न होने के बाद परिवार के सारे लोग रात में सो गए। इसी बीच सुबह लगभग 3:00 बजे पत्नी ज्योति कुमारी, भाई गोपाल पांडे उर्फ पृथ्वी पांडे तथा एक अन्य युवक गोविंद यादव मिलकर घर के बक्से में रखे गए 3।75 लाख नगद रुपए और भाई की शादी के लिए खरीदे गए 2.5 लाख रुपए के गहने लेकर फरार हो गए।

भोजपुर के युवक की भूमिका संदिग्ध
सुबह नींद खुलने के बाद पत्नी और उसके भाई समेत 2 लोगों को न देख और टूटे हुए बक्से को देखकर परिजनों के होश उड़ गए। तिलक समारोह में दुल्हन के चाचा-चाची और मौसा-मौसी भी आए थे। लेकिन पूछताछ में वो लोग भी सही से कुछ न बता सके। बाद में जानकारी मिली कि दुल्हन के साथ फरार होने वाला युवक गोविंदा कुमार यादव भोजपुर जिले के बुथुआ गांव निवासी है। उसकी भूमिका पूरी तरह से संदिग्ध है। घटना के बाद पति द्वारा ज्योति और गोविंदा को कॉल करने पर दोनों का मोबाइल स्विच ऑफ मिला।

मामले में थानाध्यक्ष अजय कुमार ने बताया कि दुल्हन ज्योति और उसके साथ आए हुए लोगों के विरुद्ध FIR दर्ज कर पुलिस जांच-पड़ताल में जुट गई है। शुरूआती जांच में जानकारी मिली है कि महिला द्वारा साजिश के तहत शादी रचाई गई थी। उसकी पहले भी एक शादी हुई थी और ठगने की नियत से उसने दूसरी शादी रचाई।

Leave a Reply