धरहरा प्रखंड अमारी पंचायत के प्राथमिक विद्यालय लकड़कोला स्थिति बदहाल है. कक्षा 1 से 5 तक की पढ़ाई खपरैल के दो कमरे में में होती है. इस विद्यालय को आजादी के इतने दिन बीत जाने के बाद भी आज तक अपना पक्का कमरा नसीब नहीं हुआ है. इस विद्यालय में कुल 3 कमरे हैं, इन्हीं में कक्षाएं चलाने की कोशिश हो रही है.

3 कमरे में ही पूरा स्कूल
जानकारी के मुताबिक, इसमें एक कमरे में रसोई और विद्यालय का ऑफिस चलता है और दो कमरे में बच्चों की पढ़ाई होती है. एक कमरे में कक्षा 1 से कक्षा 2 तक की पढ़ाई होती है, तो दूसरे कमरे में कक्षा 3 से लेकर 5 तक की पढ़ाई हो रही है. बच्चों का कहना है एक ही कमरा में 3 कक्षाएं संचालित होने से हम बच्चों को पढ़ाई करने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है.

न बिजली, न पानी और न ही शौचालय
इस चिलचिलाती धूप में हमारे विद्यालय में न बिजली है और न तो बैठने के लिए बेंच है. कमरे में खिड़की और दरवाजे खस्ताहाल में है. खपरैल का छत जगह-जगह टूटा-फूटा हुआ है, बारिश के दिन में छत से पानी आने से पढ़ाई करना मुश्किल हो जाता है और जर्जर हो चुके खपरैल के छत के नीचे पढ़ाई करना एक बड़ी चुनौती है, क्योंकि हमेशा आशंका बनी रहती है कहीं सर पर खपरैल गिर न जाए. बेंच नहीं होने से लोगों को जमीन पर नीचे दरी पर बैठकर पढ़ाई करनी पड़ रही है.

पक्का भवन भी नहीं, डर में हो रही है पढ़ाई
विद्यालय की प्रभारी राजकुमारी ने बताया कि विद्यालय में कुल नामांकित 182 बच्चे हैं, हमारे विद्यालय को आज तक पक्के का कमरा उपलब्ध नहीं हो पाया है विद्यालय में शौचालय की स्थिति भी दयनीय है. अमारी पंचायत के पूर्व पंचायत समिति धनंजय कुमार का कहना है कि जब से इस गांव में विद्यालय बना हुआ है खपरैल के मकान में ही विद्यालय चल रहा है. अब तक विद्यालय को पक्का भवन नसीब नहीं हुआ है. 

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply