बिहार में नगर निकाय के लिए होने वाले चुनाव (Bihar Local Body Election) को लेकर भले ही अभी तारीखों का ऐलान नहीं हुआ हो लेकिन प्रत्याशी लगातार चुनावी मैदान में अपना दमखम दिखा रहे हैं. इन सब के बीच कुछ ऐसी भी घटनाएं आ रही हैं जिनमें चुनावी रंजिश को लेकर हत्या तक कर दी जा रही है. ऐसा ही एक मामला पटना से आया है जहां चुनाव के पहले ही एक नेता ने अपने प्रतिद्वंदी की हत्या (Murder In Patna) करवा दी, वो भी प्रोफेशनल शूटर्स को सुपारी देकर.

चंदन कुमार चुनाव में खड़ा होने वाला था और उसके पहले राकेश कुमार महतो उर्फ पप्पू जो पहले से ही खड़ा होने का ऐलान किया हुआ था की आपस में अदावत चल रही थी. पुलिस के मुताबिक चंदन ने राकेश के पोस्टर के नीचे अपना पोस्टर लगा दिया था और यही वजह रही कि दोनों में इसको लेकर अक्सर बहस भी होती थी. राकेश कुमार महतो अक्सर मृतक चंदन के दोस्तों से उसकी हत्या करवाने की बात भी करता था और जब चंदन ने राकेश कुमार महतो के बैनर के नीचे अपना बैनर लगाया तो राकेश को इससे बेइज्जती महसूस हुई.

चंदन कुमार चुनाव में खड़ा होने वाला था और उसके पहले राकेश कुमार महतो उर्फ पप्पू जो पहले से ही खड़ा होने का ऐलान किया हुआ था की आपस में अदावत चल रही थी. पुलिस के मुताबिक चंदन ने राकेश के पोस्टर के नीचे अपना पोस्टर लगा दिया था और यही वजह रही कि दोनों में इसको लेकर अक्सर बहस भी होती थी. राकेश कुमार महतो अक्सर मृतक चंदन के दोस्तों से उसकी हत्या करवाने की बात भी करता था और जब चंदन ने राकेश कुमार महतो के बैनर के नीचे अपना बैनर लगाया तो राकेश को इससे बेइज्जती महसूस हुई.

चंदन कुमार के खिलाफ कई केस हैं जिनमें बेउर थाने में तीन मामल, परसा बाजार थाना में एक मामला कदमकुआं में एक, फुलवारी शरीफ में दो और सुखदेव नगर झारखंड में एक मामला दर्ज है. फिलहाल पुलिस इस मामले का मुख आरोपी जिसने शूटर को हायर किया था उस राकेश कुमार महतो को भी तलाश रही है जो अब तक फरार चल रहा है. फुलवारी शरीफ एएसपी मनीष कुमार ने बताया कि सोनू हत्याकांड, परसा बाजार दाऊजी स्वीट्स डकैती, कदमकुंआ और कुंदन पाल हत्याकांड फुलवारी शरीफ सहित झारखंड के भी कई कांडों में फरार और पेशेवर अपराधी चंदन सहित चार अपराधियों को हथियार के साथ गिरफ्तार किया गया है सभी को जेल भेजा जा रहा है.

Leave a Reply