राज्य के सभी उच्च माध्यमिक विद्यालयों में सोलर पावर प्लांट लगेंगे। यह काम जल जीवन हरियाली अभियान के तहत होगा। राज्य सरकार ने पहले चरण में सभी उच्च माध्यमिक विद्यालयों में ब्रेडा द्वारा सोलर पैनल लगाए जाने का निर्णय लिया है। इसको लेकर शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को विस्तृत आदेश जारी किया है

ब्रेडा द्वारा प्लांट की स्थापना एवं नेट मीटरिंग के लिए कई बिंदुओं पर विद्यालय प्रशासन और शिक्षा विभाग से अपेक्षा की है। इसको लेकर विद्यालयों द्वारा स्वीकृत भार का आवेदन दिया जाएगा। स्वीकृत सिंगल फेज को थ्री फेज कनेक्शन कराना होगा साथ ही तार की भी उपलब्धता रखनी होगी। ब्रेडा और शिक्षा विभाग के बीच इस आशय एकरारनामा भी होगा। ब्रेडा ने तमाम कार्यों में प्लस टू स्कूलों के प्रधानाध्यापकों के सहयोग की अपेक्षा की है। 

अपर मुख्य सचिव ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि स्थल निरीक्षण के दौरान वे ब्रेडा के अधिकारियों को सहयोग करें तथा उनसे समन्वय स्थापित करें। सभी डीईओ ब्रेडा के साथ एकरारनामे पर हस्ताक्षर के लिए अपने-अपने जिले के स्कूलों के हेडमास्टरों को अधिकृत करेंगे। जिलास्तर पर शिक्षा विभाग की ओर से इस कार्य के लिए एक नोडल अफसर नामित किया जाएगा। 

नोडल अफसर का फोन नंबर अपर मुख्य सचिव ने जिलों से मांगा है। गौरतलब हो कि अब राज्य की सभी पंचायतों में एक-एक उच्च माध्यमिक विद्यालय स्थापित हैं। करीब 3365 पंचायतों में मध्य विद्यालयों को प्लस टू में उत्क्रमित किया गया है। इन सभी स्कूलों में जल्द ही सोलर पावर प्लांट लगाने की स्थापना की तैयारी की जानी है।

Leave a Reply