देश में अब पांच साल की उम्र के बच्चों को भी कोरोना टीका लगाया जा सकेगा। औषधि नियामक ने/5-12 साल के बच्चों के लिए कोर्बेवैक्स के आपात इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। साथ ही, छह से 12 साल के बच्चों के लिए कोवैक्सिन को भी मंजूरी दी गई है।

12 से ज्यादा उम्र वालों के लिए भी टीका मंजूर : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, कोरोना के खिलाफ लड़ाई अब और मजबूत होगी। बच्चों को कोरोना टीके लगने से संक्रमण का खतरा कम होगा।

उन्होंने कहा कि 12 से अधिक आयु के बच्चों के लिए जायकोव डी टीके की दो खुराक को भी मंजूरी दी जा चुकी है। केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन की कोविड-19 पर गठित विषय विशेषज्ञ समिति ने कुछ दिनों पहले ही टीकों को मंजूरी देने की सिफारिश की थी।

बायोलॉजिकल ई. के ‘कोर्बेवैक्स’ टीके की खुराक अभी 12 से 14 साल के बच्चों को दी जा रही है। वहीं, 24 दिसंबर, 2021 को डीसीजीआई ने 12 से 18 वर्ष के किशोरों के लिए कोवैक्सीन’ को आपात इस्तेमाल की सूची (ईयूएल) में डाल दिया था।

Leave a Reply