chhath

सूर्य उपासना का महापर्व चार दिवसीय चैती छठ मंगलवार को नहाय खाय के साथ शुरू हो रहा है। बुधवार को खरना होगा। गुरुवार को संध्या अर्घ्य व शुक्रवार की सुबह का अर्घ्य के साथ व्रती पारन करेंगे। पंडित जयकिशोर मिश्र ने बताया कि वर्ष में दो बार छठ महापर्व होता है। पहला कार्तिक छठ व दूसरा चैती छठ। दोनों ही महत्वपूर्ण माना गया है। अब चैती छठ भी काफी संख्या में लोग करने लगे हैं।

चैती छठ को लेकर शहर के अघोरिया बाजार, मिठनपुरा, कल्याणी, अखाड़ाघाट में छठ का दउरा व सूप की जमकर खरीदारी हो रही है। अघोरिया बाजार में 150 रुपये जोड़ा सूप व तीन सौ से पांच सौ रुपये जोड़ा दौरा व टोकरी मिल रही है।

Leave a Reply