बिहार प्रचंड गर्मी की चपेट में है। बिहार के ज्यादातर इलाके में इस वक्त भीषण गर्मी और हीटवेव की स्थिति देखने को मिल रही है और इसे लेकर सरकार हाई अलर्ट मोड में आ गई है। भीषण गर्मी की वजह से लोगों की तबीयत से लगातार बिगड़ रही है। उल्टी दस्त के मरीज जहां एक तरफ हो बढ़े हैं तो वहीं दूसरी तरफ ब्रेन स्ट्रोक के मामलों में भी इजाफा हुआ है। इसे देखते हुए राज्य सरकार ने स्वास्थ्य महकमे को अलर्ट कर दिया है। सभी सरकारी अस्पतालों में 24 घंटे डॉक्टरों को तैनात रहने और जरूरी दवाइयां उपलब्ध रखने की ताकीद की गई है।

आपको बता दें कि बिहार के दक्षिणी इलाके में पहले से ही लू का कहर देखने को मिल रहा था लेकिन अब उत्तर बिहार में भी हीटवेव की वजह से मरीजों की संख्या में 40 फ़ीसदी तक इजाफा हुआ है। प्रदेश के कई जिलों में भीषण गर्मी से लोग बीमार हो रहे हैं। जिलों के अस्पताल में औसतन 40 से ज्यादा मरीज गर्मी की वजह से बीमार होकर एडमिट हैं।

पहले दक्षिण बिहार के 7 जिलों में गर्मी और लू के पीड़ित मरीज अस्पतालों में इलाज के लिए पहुंचे थे। जबकि अब मरीजों की संख्या उत्तर बिहार के जिलों में भी बढ़ने लगी है और 12 जिले इससे प्रभावित है। इनमें कैमूर, रोहतास, गया, औरंगाबाद, जमुई, नवादा, बक्सर में पहले से ही उल्टी, दस्त और अतिसार के मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। जबकि अब पटना, पूर्वी चंपारण, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी व शिवहर में भी मरीज अस्पतालों में पहुंच रहे हैं। राज्य के कई जिलों में स्थित अस्पतालों में भर्ती भीषण गर्मी और लू से पीड़ित मरीजों की औसत संख्या 41 है। इनमें पटना में 41 एवं बक्सर में 45 मरीज भर्ती हैं।

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply