Holi 2022 इस बार होलिका दहन के तीसरे दिन रंगों का पर्व होली मनाई जाएगी। 17 मार्च को होलिका दहन जबकि 19 मार्च को होली है। पंचांग के अनुसार होलिका पूर्णिमा तिथि में जलाई जाती है। इस बार पूर्णिमा तिथि 17 मार्च को दिन के 11.19 बजे से आरंभ हो रहा है जो अगले दिन 18 मार्च को दोपहर लगभग 1.02 बजे तक ही रहेगा। इसके बाद प्रतिपदा तिथि आरंभ हो जाएगा। ऐसे में होलिका दहन रात में ही होगी।

पंडित वरुण मिश्रा ने बताया कि मिथिला पंचागं के अनुसार होलिका दहन के लिए शुभ मुहूर्त 17 मार्च की रात 1.09 बजे के बाद है। होली पर इस साल बुध-गुरु की युति से आदित्य योग का भी निर्माण हो रहा है जो कि जातकों के लिए काफी शुभ फालदायी होगा।

आचार्य प्रणव मिश्रा के अनुसार बनारसी पंचांग में भी होलिका दहन 17 मार्च की रात को ही है। मान्यता के अनुसार होलिका के बुझने तक रंगो का उत्सव नहीं मनाया जाता है क्योंकि पौराणिक कथाओं के अनुसार प्रह्लाद उस समय तप रहे थे जब होलिका शांत हो उठता है तब प्रह्लाद जीवित बच जाते हैं और असत्य पे सत्य की विजय होती है।

Leave a Reply