धानमंत्री आवास योजना, ग्रामीण के तहत नए साल के शुरुआत में 11.49 लाख लाभुकों को पहली किस्त अभियान चलाकर दी जाएगी। इसको लेकर ग्रामीण विकास विभाग की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। ताकि इस वित्तीय वर्ष में निर्धारित लक्ष्य के अनुसार सभी 11.49 लाख चयनित लाभुक जल्द-से-जल्द अपने आवास निर्माण का कार्य शुरू कर दें।

जानकारी के अनुसार लाभुकों की सूची के सत्यापन का कार्य सभी जिलों में चल रहा है। पंचायत चुनाव संपन्न होने के पहले यह कार्य पूरा कर लिया जाएगा। ग्रामीण आवास सहायक के माध्यम से यह काम चल रहा है। चुनाव के तुरंत बाद ही लाभुकों की सूची ग्राम सभाओं से अनुमोदित की जाएगी। 

इसके बाद लोगों को 15 दिनों का समय दिया जाएगा, ताकि वे दावा-आपत्ति कर सकें। फिर लाभुकों का संबंधित प्रखंडों में निबंधन होगा, जिसमें आधार कार्ड और बैंक खाते की जानकारी ली जाएगी। इसके बाद जिला स्तर पर उप विकास आयुक्त के द्वारा सूची की स्वीकृति प्रदान की जाएगी। 

इसके साथ ही पहली किस्त लाभुकों के खातों में जारी कर दी जाएगी। मालूम हो कि तीन चरणों में आवास निर्माण के लिए राशि दी जाती है। लाभुकों को दूसरी किस्त तब मिलेगी जब वह अपने आवास के नींव का कार्य पूरा कल लेंगे। तीसरी किस्त खिड़की, दरवाजे और छत का काम पूरा कर लेने के बाद लाभुकों के खाते में दी जाएगी। तीनों किस्त 40-40 हजार के होंगे। वित्तीय वर्ष 2021-22 में केंद्र सरकार ने 11 लाख 49 हजार आ‌वास निर्माण का लक्ष्य बिहार को दिया है। 

tf

Leave a Reply