बिहार के पूर्वी चंपारण में साली औऱ जीजा की अवैध प्रेम कहानी की अंत बेहद खौफनाक रहा। इस अनैतिक प्रेम गाथा में एक व्यक्ति की हत्या कर दी गयी। आखिरी परिणाम ये रहा कि साली जेल पहुंच गयी है औऱ जीजा की तलाश में पुलिस ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है

लव, धोखा औऱ मर्डर

मामला पूर्वी चंपारण जिले के राजेपुर थाना क्षेत्र में हुई एक हत्या की जांच कर रही पुलिस ने सुलझाया है. राजेपुर थाना क्षेत्र के मोलानापुर गांव के पास पिछले सोमवार को पुलिस ने एक व्यक्ति का शव बरामद किया था. मोलानापुर गांव के कोठिया मन के पास ये शव मिला था. पुलिस की छानबीन में पता चला कि ये शव छोटेलाल नामक व्यक्ति का है जो मुजफ्फरपुर के मोरसंडी गांव का रहने वाला था. पुलिस की छानबीन में पता चला कि छोटेलाल की बड़ी साली मोलानापुर गांव में ब्याही गयी है औऱ जितेंद्र कुमार यादव उसका साढ़ू है। 

स्थानीय लोगों से पूछताछ और अपने मुखबिरों से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने जितेंद्र कुमार यादव को तलाशना शुरू किया लेकिन वह नहीं मिला. इसके बाद उसी गांव के जिलाजीत राय और अर्जुन राय को गिरफ्तार कर लिया गया. उनसे पूछताछ हुई तो पुलिस को हत्या से संबंधित बेहद अहम सुराग हाथ लग गये.

जीजा-साली की प्रेम कहानी

दरअसल पुलिस को पता चला कि मोलानापुर गांव के जितेंद्र कुमार यादव का अपनी साली मोनिका से बेहद अंतरंग संबंध थे. मोनिका के ही पति छोटेलाल का शव मोलानापुर गांव के पास मिला था. जबकि मोनिका अपने गांव मुजफ्फरपुर जिले के मोतीपुर में मौजूद थी. मोतिहारी पुलिस ने मोतीपुर से मोनिका को गिरफ्तार कर लिया. उससे जब पूछताछ हुई तो सारी कहानी सामने आ गयी. 

मोनिका ने पुलिस को बताया कि शादी से पहले से ही उसका प्रेम संबंध अपने जीजा जितेंद्र कुमार यादव से चल रहा था. लेकिन चूंकि जितेंद्र उसकी बड़ी बहन का पति था इसलिए दोनों शादी नहीं कर सकते थे. इसी बीच मोनिका के घरवालों ने उसकी शादी मुजफ्फरपुर जिले के मोरसंडी गांव में छोटेलाल से कर दी।

Leave a Reply