बिहार के गोपालगंज (Gopalganj) में नवविवाहिता की तेजाब से जला कर हत्या करने का मामला सामने आया है. गेहूं के खेत में महिला का अधजला शव मिलने से सनसनी फैल गई है. घटना नगर थाना क्षेत्र के पसरमा गांव की है. मृतका की पहचान पसरमा गांव के दूधनाथ प्रसाद की 23 वर्षीय बेटी कुलवंती देवी के रूप में हुई है. कुलवंती की हत्या का आरोप उसके ससुरालवालों पर लगा है. बताया जा रहा है कि कुलवंती पिछले 10 दिन से अपने ससुराल से गायब थी, और उसके पति और ससुरालवालों ने उसके मायके वालों को उसे मार डालने की धमकी दी थी.

मिली जानकारी के मुताबिक कुलवंती की शादी 12 दिसंबर, 2021 को यूपी के कुशीनगर जिले के बीरवट गांव निवासी अक्षय कुमार से हुई थी. कुलवंती के परिजनों ने उसकी शादी काफी धूमधाम से की थी. लेकिन उन्हें क्या पता था कि शादी के तीन माह बाद ही उसकी लाश यूं अधजली हालत में खेत से बरामद होगी. कुलवंती के भाई ने बताया कि उसकी बहन को उसका पति प्रताड़ित करता था. उसने गला दबाकर उसे मारने का भी प्रयास किया था. जब उसको यह पता चला तो वो अपनी बहन के ससुराल गया और उसके पति और अन्य लोगों को समझा-बुझाकर शांत करवाया था.

मृतका के भाई के बयान पर पुलिस प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज कर तफ्तीश में जुट गई है. सदर एसडीपीओ (SDPO) संजीव कुमार का कहना है कि शुरुआती तफ्तीश में तेजाब से जलाने की बात सामने नहीं आई है. लेकिन किसी ज्वलनशील पदार्थ से महिला के चेहरे और हाथ को जलाया गया है. पुलिस के मुताबिक हत्या के बाद महिला की पहचान छिपाने के लिए उसके चेहरे और हाथ को जला दिया गया है.

Leave a Reply