होली करीब है और इस बार भी तस्करों के लिए शराब से ज्यादा मुनाफा कमाना सबसे आसान तरीका है. सूत्रों की मानें तो इस बार होली में तस्कर करोड़ों रुपये की शराब के कारोबार के फिराक में लगे हुए हैं. छोटे तस्कर शराब की खेप स्टोर कर रहे हैं तो बड़े शराब कारोबारी पुलिस की आंखों में धूल झोंक कंटेनर और ट्रकों, गाड़ी के तहखानों से शराब एक-जगह से दूसरे जगह भेजने में लगे हुए हैं. शराबबंदी तस्करों के लिए नोट दोगुना करने का धंधा बन गई है. शराब के लिए तस्कर को मुंहमांगी रकम दी जाती है.

इधर पुलिस और मद्य निषेध विभाग भी शराब माफियों के खिलाफ जल, थल और वायु मार्ग से निगरानी कर रहे हैं. नदी में स्पीड बोट से शराब तस्करों पर नकेल लगाने में जुटी है, तो वहीं ड्रोन से दुर्गम इलाके में अवैध शराब की भट्ठी पकड़ने में जुटी है. इसके अलावा बाहर से आने वाली गाड़ियों की जगह-जगह चेकिंग की जा रही है. पुलिस को इसका फायदा यह हुआ कि चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में शराब की खेप को जब्त की जा रही है. इसके बावजूद शराब तस्कर ऐसी-ऐसी जगह पर शराब छिपाकर अपना धंधा कर रहे हैं, जहां पुलिस की नजर नहीं होती है.

इधर सहरसा पुलिस ने ट्रैक्टर के ट्रेलर से भारी मात्रा में विदेशी शराब जब्त की. शराब की यह खेप गिट्टी के नीचे छिपाकर लाई जा रही थी. सदर थाना क्षेत्र के कहरा कुटी के पास एक ट्रैक्टर पर गिट्टी लदी थी. ट्रैक्टर चालक पुलिस को देखकर भाग गया, जिसके बाद जब ट्रैक्टर के ट्रेलर की जांच की गई तो गिट्टी के नीचे भारी मात्रा में शराब मिली. शराब बरामद होने के बाद पुलिस ट्रैक्टर मालिक और कारोबारी की जाच कर करवाई में जुटी है

Leave a Reply