परिवार की आर्थिक तंगी दूर करने के लिए बाबा से पूजा-पाठ कराने गयी बनारस एक किशोरी को महंगा पड़ गया. बनारस वाले बाबा ने दो दिन तक कमरे में बंधक बनाकर किशोरी के साथ दुष्कर्म किया है. ये घटना राजीवनगर की रहने वाली एक किशोरी के साथ घटी है. इस संबंध में किशोरी व उसके परिजनों ने राजीवनगर थाने में लिखित आवेदन दिया है. दरअसल पूजा पाठ के नाम पर राजीव नगर की रहने वाली एक किशोरी बाबा के झांसा में फंस गयी. उसे ट्रेन से पूजा के लिए बनारस बुलाया गया. इसके बाद उसे पूजा-पाठ करने के नाम पर कमरे में रखा गया, जहां नशीला पदार्थ देकर उसे फरीदाबाद ले जाया गया.

फरीदाबाद में बाबा ने दो दिनों तक बंधक बनाकर रखा

किशोरी का आरोप है कि उसे फरीदाबाद में बाबा ने दो दिनों तक बंधक बनाकर रखा और उसके साथ दुष्कर्म हुआ. किसी तरह वह उनकी चंगुल से छूटकर वापस राजीव नगर घर पहुंची. इसके बाद उसे धमकी मिल रही थी, जिससे वह चुप थी. सोमवार को पीडि़ता स्वजन के साथ राजीव नगर थाना पहुंच इसकी लिखित शिकायत की है. राजीव नगर थानेदार नीरज कुमार ने बताया कि लिखित शिकायत मिली है. किशोरी के मुताबिक घटना फरीदाबाद में हुई. पुलिस छानबीन कर रही है.

बनारस वाले बाबा करेंगे सब दुख दूर, पैसों की नहीं होगी कमी

अंधविश्वास के चक्कर में फंसी किशोरी ने पुलिस को बताया कि मैं तो किसी तरह वहां से भाग गयी लेकिन एक और किशोरी को बाबा ने एक कमरे में बंधक बनाये हुए है. उसकी तबीयत भी बहुत खराब थी. दरअसल पीड़िता ने पुलिस को बताया कि परिवार में एक भाई और वह तीन बहनें है. वह एक रेस्टोरेंट में काम करती है. जबकि मां एक सरकारी ऑफिस में साफ सफाई करती हैं. आर्थिक तंगी के कारण घर में काफी परेशानी हो रही थी. इसी बीच फरवरी में राजीव नगर की रहने वाली एक महिला किशोरी से संपर्क की. उसने बताया कि बनारस में एक बाबा है, जो पूजा पाठ कर देंगे तो घर में पैसों की कमी नहीं होगी. सब दुख दूर हा जायेंगे. इसके लिए बनारस बाबा के पास जाना होगा.

किशोरी के साथ एक लड़की जाने के लिए तैयार हो गयी

किशोरी महिला की बात पर यकीन कर ली. किशोरी के साथ एक और लड़की पूजा पाठ करवाने के लिए बनारस जाने को तैयार हो गयी. दोनों 27 फरवरी की रात ट्रेन से मुगलसराय पहुंची. पीड़िता की मानें तो वहां आठ नौ लोग पहुंच गये और वह बनारस ले गये. वहां से दोनों को फिर 28 फरवरी को फरीदाबाद ले जाया गया. आरोप है कि रात में बाबा ने तंत्र मंत्र के नाम दो दिनों तक बंधक बनाकर दुष्कर्म किया. जबकि दूसरी किशोरी को बीमार होने की वजह से अलग कमरे में रखा गया था. किसी तरह बचकर किशोरी बाबा के चंगुल से बचकर आयी.

Leave a Reply