लोरपुर ग्रामसभा में आधी रात गांववालों को बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी। जब लोग मौके पर पहुंचे तो देखा कि चुनरी में लिपटी बच्ची रो रही है। यह देख सभी भौचक्के रह गए। थोड़ी ही देर यह बात पूरे गांव में फैल गई। इस कारण बड़ी संख्या में महिलाएं और पुरुष इकट्ठा हो गए। जितने लोग, उतनी तरह की बातें होती रहीं। कइयों ने बच्ची को अपने संरक्षण में रख कर पालने की इच्छा जाहिर की।

इसी बीच किसी ने मामले की जानकारी दूरभाष पर थाना प्रभारी कृष्ण मोहन सिंह को दी। सूचना पाकर मौके पर एसआइ मोल्हे राम पुलिस टीम के साथ पहुंचे। उन्होंने बच्ची को कब्जे में लिया। बिटिया महिला सिपाही पुष्पा सिंह की गोद में पहुंची तो खिलखिला उठी। मानो उसको मां मिल गई हो।

थाना प्रभारी ने बताया कि मामले की जानकारी उच्च पदस्थ अधिकारियों को दे दी गई है। बच्ची के स्वास्थ्य की जांच सीएचसी के चिकित्सक ने की। इमरजेंसी सेवा में तैनात चिकित्सक मिथलेश के अनुसार बच्ची की उम्र करीब दस से बारह माह है, जो पूरी तरह से स्वस्थ है।

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply