बिहार में अपराधियों का मनोबल सातवें आसमान पर है और यही कारण है कि पुलिस को चुनौती देते हुए अपराधी आए दिन क्राइम की वारदात को अंजाम दे रहे हैं। ताजा मामला बिहार के गया जिले से सामने आयी है। जहां एक बार फिर अपराधियों ने पुलिस को बड़ी चुनौती दी है। बदमाशों ने घर के पास खेल रहे 7 साल के मासूम का अपहरण कर लिया। दीवाली के दिन इस घटना से परिवार के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है। परिजन अपने कलेजे के टुकड़े की बरामदगी के लिए पुलिस से गुहार लगा रहे हैं।

दो अज्ञात अपराधियों ने जबरन बच्चे को बोलेरो में बिठा लिया और मौके से फरार हो गये। परिजनों ने अपने कलेजे के टुकड़े की काफी खोजबीन की लेकिन कोई अता पता नहीं चल सका। तभी कुछ घंटे बाद अपहरण करने वालों ने फोन किया और परिजनों से 50 लाख की फिरौती की मांग की। अपहर्ताओं ने इसकी सूचना पुलिस को देने से मना किया और चुपचाप रकम की व्यवस्था करने की बात कही। जिस बच्चे का अपहरण किया गया वह मानपुर प्रखंड के रसलपुर गांव के रहने वाले रिटायर्ड सेना के जवान बाल्मीकि सिंह का पुत्र मोहित कुमार है। जिसका बदमाशों ने बुधवार की देर रात अपहरण कर लिया।

अपहरण के बाद कई बार अपहर्ताओं का फोन आ चुका है और हर बार फोन कर पैसे की मांग की गयी है। फिरौती मांगने के बाद बदमाश हर बार अपना मोबाइल स्वीच ऑफ कर ले रहा है। दिपावली के दिन हुई अपहरण की घटना से परिवार के लोग सदमे में है। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है। वरीय पुलिस अधीक्षक आदित्य कुमार ने बताया कि मुफ्फसिल थाने में परिजनों के द्वारा प्राथमिकी दर्ज की गयी है। परिजनों ने बच्चे के अपहरण की जानकारी दी है।

मामले की जांच में जुटी पुलिस अपराधियों के मोबाइल लोकेशन के आधार पर कार्रवाई कर रही है। एसएसपी ने बताया कि बदमाशों ने मासूम बच्चे का अपहरण कर लिया है। बच्चे को छोड़ने के लिए अपराधियों द्वारा 50 लाख की फिरौती मांगी गयी है। जिस मोबाइल नंबर से बदमाशों ने फोन किया है उसके लोकेशन को पता करने की कोशिश पुलिस की टेक्निकल सेल कर रही है।



पुलिस ने दावा किया है कि जल्द ही सभी अपराधी पुलिस की गिरफ्त में होंगे और बच्चे को बरामद कर लिया जाएगा। मामले की जांच के दौरान जब पुलिस ने पूछताछ की तब पता चला कि पीड़ित परिवार के बहनोई पर लोगों को शक है जिसके बाद पुलिस उस व्यक्ति की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। अब तक बच्चे को बरामद नहीं किया जा सका है। इस घटना को लेकर परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। वही दिवाली के दिन हुई इस घटना से इलाके के लोग भी सकते में है। परिवार के लोग भी मासूम की खोजबीन में जुटे है।

Leave a Reply