एक महिला सब इंस्पेक्टर की बहादुरी देखने को मिली है, जिसके लिए उसे हर जगह वाहवाही मिल रही है। यहां की सब-इंस्पेक्टर महिला जोनमाई ने अपने होने वाले पति राणा को ही गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। दरअसल, युवक नकली पहचान बताकर शादी करना चाहता था। इस तरह उसने कई अन्य लोगों के साथ भी ठगी की थी। मामला सामने आने के बाद महिला सब इंस्पेक्टर ने उसे गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद उसे पुलिस हिरासत में भेजा गया है।

फर्जी पहचान दिखाकर करता था ठगी
यह मामला असम के नगांव जिले का है। जब नगांव थाने में कार्यरत महिला सब इंस्पेक्टर जोनमाई राभा को अपने मंगेतर के बारे में पता चला तो उसने उसे गिरफ्तार कर लिया। उसका मंगेतर राणा पगाग लोगों से ठगी करता था और अपना झूठा परिचय देकर धाक जमाता था। उस पर फर्जी पहचान दिखाकर शादी करने, लाखों रुपये की ठगी का आरोप है।

पुलिस अधिकारी को प्यार के जाल में फंसाया
आरोपी राणा पगागा ने पुलिस ऑफिसर जोनमाई को भी अपने प्यार के जाल में फंसाया। जोनमाई और राणा की पहली मुलाकात तब हुई थी जब जोनमाई माजुली में पोस्टेड थी। वहीं से इनकी दोस्ती की शुरुआत हुई और बाद में दोनों ने शादी का फैसला किया था।

ठग ने खुद को बताया बड़ा अधिकारी
आरोपी राणा पगागा ने जोनमाई को बताया कि वह तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (ONGC) में मुख्य जनसंपर्क अधिकारी है। पुलिस ने जब जांच की तो पता चला कि वह ONGC के नाम से जिस गाड़ी में आता-जाता था, वो भाड़े की गाड़ी थी। जब जोनमाई ने आगे जांच की तो उसे पता चला कि उसके मंगेतर राणा ने तीन लोगों से 25 लाख रुपए ठग लिए हैं। पुलिस की जांच के दौरान महिला एसआई को ये भी पता चला कि उसका होने वाला पति ONGC की प्लेट लगी जिस गाड़ी से आता जाता था वो भी भाड़े यानी किराये की कार होती थी।

Leave a Reply