बिहार में अवैध तरीके से शराब की सप्लाई करने वाले शराब माफिया अनिल सिंह आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया। बिहार पुलिस ने उसे दिल्ली के फाइव स्टार होटल से गिरफ्तार किया है। अनिल सिंह ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर नकली रैपर लगे शराब की खेप को बिहार भेजता था। वह ऐशो आराम के साथ दिल्ली में जिन्दगी गुजार रहा था। लेकिन ज्यादा दिनों तक वह पुलिस से बच नहीं सका। गिरफ्तारी के बाद अनिल सिंह को लेकर पुलिस पटना के लिए निकली है। आज शाम तक अनिल सिंह पटना पहुंचेगा जहां उससे पूछताछ की जाएगी।

बता दें कि अनिल सिंह अवैध शराब का सप्लायर था। बिहार में शराबबंदी का फायदा उठाकर उसने अकूत संपत्ति बनाए। वह बिहार में शराब की खेप पहुंचाया करता था। हालाकि कई बार शराब की खेप पकड़ी भी गयी। पटनासिटी के आलमगंज और बांका में शराब की बड़ी खेप को पुलिस ने पकड़ा तब पूछताछ के दौरान अनिल सिंह का नाम सामने आया था। जिसके बाद दोनों जिलों में उसके खिलाफ केस दर्ज किया गया। इससे पहले भी पिछले साल मलयपुर थाना क्षेत्र में शराब से लदी ट्रक को पुलिस ने पकड़ा था उसमें भी अनिल सिंह का नाम सामने आया था। अनिल सिंह पर केस दर्ज उस वक्त भी किया गया था।

अनिल सिंह वैसे तो बिहार का हैं लेकिन पिछले कई वर्षों से वह अपने परिवार के साथ बोकारों में रहता है। बोकारो में बियाडा की जमीन पर उसने श्रीओम बॉटलर्स कंपनी के नाम से शराब बनाने की फैक्ट्री खोल रखी थी जहां वह शराब को स्टॉक करके गोदाम में रखा करता था। उसकी तलाश में मद्य निषेध विभाग की टीम बोकारो पहुंची थी। उसकी फैक्ट्री में जब पुलिस ने छापेमारी की तब डेढ़ लाख लीटर शराब की खेप बरामद हुई थी। इसके अलावे ब्रांडेड कंपनियों के नाम से बनाए गये रैपर भी बरामद किए गये थे। ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर नकली रैपर लगाकर अनिल सिंह शराब की खेफ बिहार भेजा करता था। अनिल सिंह पर बोकारो में भी केस दर्ज है।

बिहार और झारखंड पुलिस ने मिलकर अनिल सिंह की फैक्ट्री में छापेमारी की थी हालांकि इस दौरान अनिल सिंह पुलिस से बचकर वहां से निकल गया था लेकिन पुलिस ने उसकी फैक्ट्री और गोदाम को सील कर दिया। इसके बावजूद अनिल सिंह अपनी आदतों से बाज नहीं आया। अब वह शराब का सप्लायर बन गया। वह लगातार बिहार में बंद शराब का फायदा उठाता रहा है। बिहार में शराब की खेप भेजकर उसने अकूत संपत्ति अर्जित कर ली है। उसे 5 स्टार होटल में रहना और ऐशो आराम की जिन्दगी जीने की आदत थी। अवैध शराब के धंधे से जुड़कर उसने खूब पैसे कमाए। उसके संबंध बड़े-बड़े अधिकारियों और सफेदपोशों से भी है। मद्य निषेध विभाग बिहार के टीम ने उसे दिल्ली के राजेन्द्र नगर स्थित एक फाइव स्टार होटल से धड़ दबोचा है आज शाम तक उसे दिल्ली से पटना लेकर टीम पहुंचेगी।

Leave a Reply