बिहार प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मुलाकात की है। मदन मोहन झा दिल्ली दौरे पर गए तो यह चर्चा एक बार फिर से जोर पकड़ने लगी कि अगले चंद दिनों के अंदर उनकी विदाई हो जाएगी। सूत्र बता रहे हैं कि बिहार कांग्रेस को जल्द ही नया प्रदेश अध्यक्ष मिल जाएगा लेकिन इस सबके लिए राहुल गांधी ने बिहार में संगठन की मौजूदा स्थिति, हालिया विधान परिषद चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन समेत अगले नेतृत्व को लेकर मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष से बातचीत की है। मदन मोहन झा और राहुल गांधी के बीच हुई मुलाकात में बिहार के अंदर पार्टी की मौजूदा चुनौतियों पर भी चर्चा हुई है।

प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दिए जाने की बाबत जब फर्स्ट बिहार ने मदन मोहन झा से बातचीत की है तो उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि वह अपना इस्तीफा पहले ही आलाकमान को दे चुके हैं। फैसला आलाकमान को करना है और बिहार में पार्टी कैसे मजबूत हो इसी मसले पर राहुल गांधी से चर्चा हुई है। आपको बता दें कि बिहार में कांग्रेस का प्रदर्शन पिछले विधानसभा चुनाव के बाद लगातार नीचे जा रहा है। विधानसभा चुनाव कांग्रेस ने महागठबंधन के साथ लड़ा था लेकिन उसके बाद विधानसभा के उपचुनाव में महागठबंधन से अलग होकर कांग्रेस ने उम्मीदवार उतारा। विधान परिषद के चुनाव में भी आरजेडी के साथ कांग्रेस का गठबंधन नहीं हुआ था और अब पार्टी के मौजूदा प्रदर्शन और संगठन की स्थिति को लेकर मदन मोहन झा ने दिल्ली में राहुल गांधी से चर्चा की है।

माना जा रहा है कि प्रदेश नेतृत्व पर मुहर लगाने से पहले राहुल गांधी पार्टी के अन्य नेताओं से भी मुलाकात कर सकते हैं। मदन मोहन झा के बाद पार्टी के दूसरे नेताओं को भी राहुल गांधी से मिलने का वक्त मिल सकता है और सभी नेताओं से चर्चा करने के बाद अंतिम तौर पर राहुल किसी चेहरे के ऊपर फैसला लेंगे। राहुल जिस चेहरे के ऊपर बिहार में दांव लगाएंगे, आलाकमान भी उसी पर मुहर लगाएगा। बिहार में जातीय समीकरण के साथ-साथ कांग्रेस नेतृत्व की नजर किसी ऐसे चेहरे पर है, जो युवा भी हो।

Leave a Reply