मुंबई की रहने वाली एक लड़की बिहार आते ही मांग में सिंदूर लेती थी और अपनी पार्टनर के साथ मिलकर गंदा काम करती थी। ओबरा थाना पुलिस ने मेले में बच्चा चोरी करने वाली महिला गिरोह का राजफाश किया है। पुलिस ने गिरोह की दो महिला चोरों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार महिला चोरों में इंदु देवी एवं रजनी कुमारी शामिल हैं।

इंदु भागलपुर शहर की रहने वाली है, जिसका ओबरा बाजार में मायका है। वहीं रजनी मुंबई शहर के काला नगर की रहने वाली है, जिसका मौसी का घर ओबरा बाजार में है। दोनों महिला चोर देवकली शिव मंदिर के पास लगा शिवरात्री मेला से मंगलवार को चेंगा बिगहा गांव निवासी रामकुमारी की दो माह के बच्चा को उसके गोद से जबरन छीनकर भीड़ का फायदा उठाते हुए फरार हो गई।

बच्चे की मां के द्वारा शोर मचाई गई तब तक दोनों महिला चोरों में एक इंदु देवी को भीड़ के द्वारा पकड़ लिया गया। पकड़े जाने के बाद महिला चोर की पिटाई की गई। महिला के द्वारा ओबरा थाना पुलिस को सूचना दी गई। सूचना पर कार्रवाई करते हुए थानाध्यक्ष पंकज कुमार सैनी ने चार घंटे के अंदर दोनों महिला चोर को गिरफ्तार किया। चुराए गए बच्चे को सकुशल बरामद किया। थानाध्यक्ष ने बताया कि इंदु को मेला क्षेत्र से भागने के दौरान ग्रामीणों ने पकड़ ली थी जिसे गिरफ्तार किया गया जबकि रजनी के भागने के दौरान कारा बाजार के पास से पकड़ा गया। 

सिंदूर लगाकर लोगों को देती थी धोखा

थानाध्यक्ष ने बताया कि रजनी अविवाहित है परंतु अपनी पहचान छिपाने के लिए माथे पर सिंदूर लगाई हुई थी। बताया कि महिला चोरों की योजना चुराए गए बच्चे को मुंबई ले जाकर बेच देने की थी। हालांकि गिरफ्तारी के बाद गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में काफी पूछताछ की गई परंतु अपने गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में बहुत कुछ नहीं बताई है। गिरफ्तार महिला चोरों के द्वारा जो बात बताई गई है उसके आधार पर सत्यापन किया जा रहा है। दोनों के स्वजनों से संपर्क किया जा रह है। दोनों का पूर्व का आपराधिक इतिहास का पता लगाया जा रहा है। बताया जाता है कि शिवरात्री मेले में रामकुमारी अपने बच्चे को लेकर शिवमंदिर में पूजा करने पहुंची थी। पूजा के दौरान दोनों महिला चोरों ने महिला से यह कहते हुए बच्चे की मांग किया कि आप पूजा करिए हम बच्चे को सुरक्षित रखेंगे।

जब महिला के द्वारा बच्चा देने से माना किया तो दोनों महिला चोर जबरन उसके बच्चे को गोद से छीन ली और भागने लगे। पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि रजनी एवं इंदु दोनों रिश्तेदार हैं। थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों महिला चोरों के खिलाफ राजकुमारी के बयान प्राथमिकी दर्ज करते हुए बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया। 

Leave a Reply