सवाल: मैं 21 साल की लड़की हूं और मुझे अपने कॉलेज के एक प्रफेसर से प्यार हो गया है। उनकी उम्र 50 से ऊपर है। वह शादीशुदा हैं और उनकी दो बेटियां भी हैं। इसके बावजूद मैं उनसे प्यार करती हूं और वह भी मेरे लिए ऐसी ही भावनाएं रखते हैं। हम दोनों का रिश्ता एक साल से चल रहा है और उन्होंने वादा किया है कि वह मुझसे शादी करेंगे। उन्होंने मुझे बताया कि उनकी शादीशुदा जिंदगी में कई तरह की परेशानियां लंबे समय से चली जा रही हैं और वह अपनी पत्नी से तलाक लेने पर विचार कर रहे हैं।

मैं इस रिलेशनशिप में तभी आई, जब मुझे पता चला कि उनकी शादीशुदा जिंदगी टूटने की कगार पर है। हालांकि, अब दिक्कत ये है कि वह तलाक की बात को आगे नहीं बढ़ा रहे हैं। जब भी मैं उनसे इस बारे में पूछती हूं, तो वह मुझसे ये कहते हैं कि उन्हें बस अपनी बेटियों के थोड़ा बड़ा हो जाने का इंतजार है। मुझे नहीं पता कि मैं उन पर विश्वास करूं या नहीं। प्लीज मुझे बताइए कि मैं आखिर क्या करूं क्योंकि मैं उनसे बहुत प्यार करती हूं और उनके बिना जीने की कल्पना भी नहीं कर सकती हूं। प्लीज मेरी मदद कीजिए। (सभी सांकेतिक तस्वीरें: इंडियाटाइम्स औ

मुंबई में काउंसलिंग साइकलॉजिस्ट रचना अवतरमानी का जवाब: विश्वास किसी भी रिश्ते के लिए सबसे प्रमुख होता है। हालांकि, लॉन्ग टर्म रिलेशनशिप में जोड़े का एक जैसी सोच व लक्ष्य लेकर चलना भी अहम है। मैं समझ सकती हूं कि आप असमंजस में हैं कि आप क्या करें, क्योंकि आपको अपने प्रफेसर से प्यार हो गया है, जो शादीशुदा है व उसकी दो बेटियां भी हैं। उसकी उम्र 50 तो आपकी 21 है।

आपने बताया कि आप दोनों एक-दूसरे से प्यार करते हैं और वह अपनी शादीशुदा जिंदगी में खुश नहीं हैं, लेकिन वह उस रिश्ते को भी निभा रहे हैं क्योंकि वह अपनी बेटी को थोड़ा बड़ा हो जाने देना चाहते हैं। ये आपके लिए सबसे ज्यादा चुनौतीपूर्ण है और ये आपको अपने रिश्ते व प्रफेसर पर शक करने को मजबूर कर रहा है।

सबसे पहले मैं सुझाव दूंगी कि आप ये समझ की आपको जिंदगी से आखिर चाहिए क्या? आपके गोल्स क्या हैं और आपको असली खुशी किसी चीज से मिलती है? दूसरा, आपको उनसे साफ बात करनी होगी कि वह आपसे और इस रिश्ते से क्या चाहते हैं। आपको ये समझना होगा कि वह सामाजिक तौर पर बेहद आरामदायक स्थिति में हैं। वह शादीशुदा हैं, उनके बच्चे हैं और उनकी नौकरी है। उन्हें आपके साथ नई जिंदगी शुरू करने के लिए इस उम्र में अपनी इन सभी पुरानी चीजों को छोड़ना होगा, जो यकीनन उनके लिए आसान नहीं है।

आखिर में मैं यही कहूंगी कि आप काउंसलर के पास जाएं, जो आपको अपने रिश्ते को ज्यादा बेहतर तरीके से समझने में मदद कर सकता है। मैं उम्मीद करती हूं कि आप इस रिश्ते के फायदे और नुकसान दोनों पर काम करने को तैयार हैं और इसका नतीजा जो भी होगा उसका सामना करने के लिए भी रेडी हैं।

अगर आप उनसे शादी करती हैं, तो आपको कई तरह की चुनौतियों का सामना करना होगा, जिसें सोशल प्रेशर, बायलॉजिकल चैलेंज आदि चीजें शामिल हैं। अगर आप उनसे अलग होने का फैसला लेती हैं, तो आपको दिल टूटने के दर्द का सामना करना होगा, क्योंकि आप उनसे भावनात्मक रूप से जुड़ी हैं। मेरा सुझाव है कि आप चीजों को लॉन्ग-टर्म रिलेशनशिप के ऐंगल से सोचें और फिर फैसला लें।

Leave a Reply