बिहार में नीतीश कुमार का अगला कदम क्या होगा.. क्या नीतीश कुमार दिल्ली की सियासत करेंगे या फिर किसी बड़े पद के लिए चुने जाएंगे, ये सारे सवाल हैं जिनका जवाब बिहार की सियासत में खोजा जा रहा है. भले ही खुद नीतीश कुमार ने इस सवाल का जवाब नहीं देने की कोशिश की है और इस तरह के खबर पर आश्चर्य ज़ाहिर किया है लेकिन बावजूद इसके सवाल अभी भी बना हुआ है. बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भाजपा पर चुटकी लेते हुए कहा कि भाजपा के पास सीएम का कोई चेहरा ही नहीं है तो इस सवाल पर बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता और उपमुख्य मंत्री तार किशोर प्रसाद ने भी पलटवार किया.

तारकिशोर प्रसाद के बयान ने काफी हद तक तस्वीर साफ करने की कोशिश की है. तारकिशोर प्रसाद ने न्यूज 18 से बात करते हुए कहा कि नीतीश कुमार को लेकर जो भी चर्चा हो रही है वो निराधार है. नीतीश कुमार की अगुवाई में ही NDA ने 2020 का चुनाव लड़ा था और भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री भी बनाया है. ऐसे में ये साफ है कि 2025 तक नीतीश कुमार ही बिहार के मुख्यमंत्री रहेंगे. 2025 के बाद NDA का मुख्यमंत्री कौन होगा, ये NDA के नेता तय करेंगे. इस पर अभी से कुछ नहीं कहा जा सकता है.

तारकिशोर प्रसाद से जब ये सवाल पूछा गया कि क्या भाजपा के पास मुख्यमंत्री का कोई चेहरा नहीं है, तेजस्वी यादव ने ये चुटकी ली है तो इस पर तारकिशोर प्रसाद तेजस्वी यादव पर हमलावर हो गए और कहा कि जो पार्टी परिवारवाद में डूबी हुई है पहले वो जवाब दे कि उनकी पार्टी में उनके परिवार के अलावा कोई और चेहरा है जो सीएम बन सकता है. भाजपा में तो हर कार्यकर्ता और नेता मुख्यमंत्री का उम्मीदवार है.

डिप्टी सीएम ने कहा कि तेजस्वी यादव भाजपा की चिंता नहीं करें. वो अपनी चिंता करें कि उनकी पार्टी में उनके परिवार को निकाल दिया जाए तो क्या बचता है. भाजपा एक परिवार है और मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा ये भाजपा की शीर्ष नेतृत्व ही तय करता है. बुधवार को जब भाजपा अपना स्थापना दिवस मना रही है तो इसे लेकर बिहार भाजपा के नेताओ और कार्यकर्ताओं में उत्साह देखा जा रहा था साथ ही ये भी सवाल उठ रहा था कि भाजपा जो बिहार में भी सबसे बड़ी पार्टी बन चुकी है क्या आने वाले समय में भाजपा अपने दम पर सरकार बना सकती है क्या भाजपा के पास मुख्यमंत्री का कोई चेहरा है.

Leave a Reply