बिहार में जातीय जनगणना को लेकर गर्म हुई राजनीति के बीच जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व सांसद पप्पू यादव का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने तेजस्वी यादव द्वारा जातीय जनगणना को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर दबाव बनाए जाने को लेकर उल्टा राजद नेताओं से ही सवाल पूछ लिया है. उन्होंने जातिगत जनगणना मामले पर कहा कि लालू यादव हमेशा से किंग मेकर की भूमिका में रहे हैं. 15 सालों तक लालू यादव की सरकार बिहार में राज करती रही. बावजूद इसके उन्होंने अपनी सरकार में जातीय जनगणना क्यों नहीं करवाया? सके साथ ही पप्पू यादव ने बीपीएससी पेपर लीक कांड में नीतीश सरकार को भी घेरा है.

पप्पू यादव ने आगे कहा, जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जातीय जनगणना का समर्थन किया है. बावजूद इसके तेजस्वी यादव जनता को गुमराह करने के लिए पैदल मार्च करने और मुख्यमंत्री से मिलने का बहाना बनाकर जनता को गुमराह करने का काम कर रहे हैं. दूसरी ओर बीपीएससी मामले पर पप्पू यादव ने बिहार सरकार को कठघरे में खड़ा किया है.

पप्पू यादव ने कहा कि पर्चा लीक मामले में बिहार के माफिया कोचिंग संचालक और अधिकारियों की मिलीभगत से बिहार के लाखों युवाओं के करियर बर्बाद करने का काम किया है. पर्चा लीक के बाद बिहार के नौजवानों के अंदर आक्रोश है. समाज के अत्यंत पिछड़े दलित कमजोर अल्पसंख्यक और गरीब तबके के बच्चे बिना पैसे दिए नौकरी में नहीं जा सकते. जब वह मेहनत करके आगे बढ़ने का प्रयास करते हैं तो ऐसे परीक्षा के पर्चे लीक हो जाते हैं. ऐसे में बिहार के लाखों बच्चों के भविष्य को राज्य सरकार ने दांव पर लगा दिया है.

पूर्व सांसद पप्पू यादव ने बिहार सरकार से बीपीएससी पेपर लीक मामले में सीबीआई जांच की मांग की है. इसके साथ ही विश्वेश्वरैया भवन में लगी भवन में लगी आग मामले को लेकर सरकार पर गंभीर सवाल खड़े किए हैं और इसकी गंभीरता से जांच की मांग की है.

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply