बिहार में राज्यसभा चुनाव से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है. केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह को जनता दल यूनाइटेड राज्यसभा भेजेगी या नहीं इसे लेकर सस्पेंस बना हुआ है, लेकिन इस बीच खबर यह आ रही है कि आरसीपी सिंह राज्यसभा जाने को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त हैं. केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह पिछले 2 दिनों से पटना में अपने समर्थकों के साथ बातचीत कर रहे हैं. इस दौरान पार्टी का कोई बड़ा चेहरा तो उनके साथ नहीं दिखा है लेकिन संगठन से जुड़े और उनके करीबी माने जाने वाले नेता आरसीपी सिंह के दरबार में लगातार मौजूद रहे हैं. फर्स्ट बिहार को जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक आरसीपी सिंह ने अपने समर्थक के नेताओं और कार्यकर्ताओं को आश्वस्त किया है कि वह राज्यसभा जा रहे हैं.

फर्स्ट बिहार को जो महत्वपूर्ण जानकारी मिली है उसके मुताबिक आरसीपी सिंह के नामांकन को लेकर दस्तावेज का काम भी पूरा किया जा रहा है. राज्यसभा चुनाव के लिए आज से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हुई है और आरसीपी सिंह आने वाले दिनों में नामांकन कर सकते हैं. हालांकि जेडीयू के सूत्र बताते हैं कि आरसीपी सिंह का पत्ता पार्टी ने काट दिया है. पिछले कुछ अरसे से इस बात की चर्चा रही है कि नीतीश कुमार आरसीपी सिंह को राज्यसभा भेजने के मूड में नहीं है. जेडीयू को एक सीट पर अपना उम्मीदवार राज्यसभा भेजना है. ऐसे में कई नामों की चर्चा हो रही है.

केंद्रीय मंत्रिमंडल में आरसीपी सिंह के शामिल होने के बाद जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह और आरसीपी सिंह के बीच दूरियों की खबर भी लगातार सामने आती रही. पार्टी के संसदीय बोर्ड अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा से भी आरसीपी सिंह का 36 का आंकड़ा है. ऐसे में बड़ा सवाल यह उठता है कि क्या नीतीश कुमार ललन सिंह और उपेंद्र कुशवाहा की नाराजगी मोल लेकर आरसीपी सिंह को फिर से राज्यसभा भेजेंगे अगर आरसीपी सिंह जेडीयू से फिर राज्यसभा गए तो ललन सिंह और उपेंद्र कुशवाहा जैसे नेताओं का रूख क्या रहेगा.

एक तरफ जहां आरसीपी सिंह को जेडीयू से राज्यसभा भेजे जाने को लेकर सस्पेंस बना हुआ है. तो वहीं दूसरी तरफ से इस बात की भी चर्चा हो रही है कि आरसीपी सिंह के मामले में बीजेपी कोई बड़ा फैसला कर सकती है. ऐसे में आरसीपी सिंह अगर अपने समर्थकों को आश्वस्त कर रहे हैं तो इसके पीछे कहीं बीजेपी का बैकअप तो नहीं यह सवाल भी उठ रहा है. नीतीश कुमार अगर आरसीपी सिंह को राज्यसभा भेजने क्या फैसला नहीं लेते हैं तो क्या भारतीय जनता पार्टी आरसीपी सिंह को राज्यसभा पहुंचाएगी, यह भी एक बड़ा सवाल है. हालांकि यह इतना आसान नहीं दिखता क्योंकि नीतीश की नाराजगी मोड़ लेकर बीजेपी आरसीपी सिंह को अगर राज्यसभा भेजती है तो वैसे ही परिस्थितियों में जेडीयू बीजेपी के गठबंधन पर इसका सबसे बुरा प्रभाव पड़ेगा सवाल कई हैं, और राजनीतिक गलियारों में कयास का दौर जारी है. लेकिन फर्स्ट बिहार के पास यह पक्की खबर है कि आरसीपी सिंह राज्यसभा जाने को लेकर न केवल पूरी तरह आश्वस्त हैं. बल्कि उनकी तरफ से डॉक्यूमेंट वर्क भी पूरा कराया जा रहा है ताकि नामांकन किया जा सके.

Leave a Reply