rimjhim

पटना पुलिस ने हाई प्रोफाइल रिमझिम मर्डर का खुलासा चौंकाने वाला किया है. रिमझिम मर्डर मामले में पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पटना एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने रिमझिम मर्डर मामले का खुलासा करते हुए बताया कि रोहित एएन कॉलेज से ग्रेजुएट है और स्टेम सेल से जुड़ी एक कंपनी में नौकरी करता है. रिमझिम तंत्र-मंत्र करती थी और रोहित कर्ज से परेशान था, इससे छूटकारा पाने के लिए दो साल पहले उसके संपर्क में आ गया था. एक साल बीतने के बाद जब रोहित को लगा कि उसे अब इस तंत्र-मंत्र के चक्कर में नहीं रहना है तो रिमझिम ने उसे बर्बाद करने की धमकी देने लगी.

इसके बाद रोहित ने रिमझिम की हत्या कराने की साजिश रची. रोहित ने रिमझिम से ही 4 लाख रुपए 15 प्रतिशत ब्याज पर लिए और उसकी हत्या के लिए सुपारी दी थी. इसके बाद 24 नवंबर दिन बुधवार को रिमझिम का शव नौबतपुर थाना क्षेत्र में मिला था. पटना SSP उपेंद्र शर्मा ने बताया कि 2005 में रोहित दिमागी रूप से परेशान हो गया था. रोहित की लाइफ में कोई समस्या आई थी, जिससे वह डिप्रेशन में था और इस कारण से ही उसकी एक दोस्त पूनम ने उसे रिमझिम के पास भेजा था. रोहित की 2014 में शादी हुई थी और उस पर काफी कर्ज का भार हो गया था. इस कारण से वे तनाव में था.

SSP ने बताया कि घटना के दिन रोहित रिमझिम के पास पहुंचा और एक जमीन खरीदने की बात कही. रोहित ने कहा कि उसे देखकर यह फाइनल कर दे कि जमीन ठीक है. इस पर रिमझिम भी तैयार हो गई और रोहित के साथ कार से जमीन देखने के लिए निकल पड़ी. बाकी अपराधी वहां पहले से मौजूद थे. वह जमीन देखने नौबतपुर गई और बैठकर पूजा की. इसके बाद उसने मिट्‌टी उठाकर चाटी. रिमझिम ने जैसे ही कहा- जमीन ठीक है, शूटर रंजीत ने उसके मुंह में गोली मार दी. घटनास्थल पर ही रिमझिम की मौत हो गई और फिर रोहित गाड़ी पटना में खड़ी कर मुजफ्फरपुर चला गया. पुलिस ने जब रोहित को पकड़ा तो पूरी मर्डर हिस्ट्री खुल गई.

Leave a Reply