nadi

राज्य में पटना जिला सहित आठ जिले के करीब 150 बालू घाटों की बंदोबस्ती प्रक्रिया पूरी हो गयी. इनमें पटना, भोजपुर, सारण, औरंगाबाद, रोहतास, गया, जमुई और लखीसराय जिला शामिल हैं. इन जिलों के पर्यावरणीय स्वीकृति प्राप्त बालू घाटों के संचालन के लिए बिहार राज्य खनन निगम लिमिटेड द्वारा इ-नीलामी प्रक्रिया के माध्यम से बंदोबस्तधारियों का चयन किया गया है.

कागजी कार्रवाई के बाद बालू खनन अगले सप्ताह से शुरू हो जायेगा. इससे उचित दर पर बालू की उपलब्धता सुनिश्चित हो सकेगी. वहीं, करीब 100 बालू घाटों की इ-नीलामी 10 दिसंबर से शुरू होने की संभावना है. फिलहाल छह दिसंबर को इसका तकनीक बिड खुलेगा. सुप्रीम कोर्ट द्वारा 10 नवंबर, 2021 को आदेश पारित किया गया था.

इस आलोक में बिहार स्टेट माइनिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड ने 27 नवंबर से तीन दिसंबर तक पटना, भोजपुर, सारण, औरंगाबाद ,रोहतास, जमुई और लखीसराय जिला के पर्यावरणीय स्वीकृति प्राप्त बालू घाटों के संचालन के लिए इ-नीलामी प्रक्रिया पूरी कर ली. इ-नीलामी के माध्यम से उच्चतम बोली लगाने पर चयनित बंदोबस्तधारियों को आवश्यक कागजात और राशि जमा करने के लिए सूचना निर्गत कर दी गयी है.

input:

Leave a Reply