देश की आजादी को लेकर दिए विवादस्पद बयानों को लेकर एक बार फिर से फिल्म एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) चर्चे में हैं. बिहार में भी उनके बयान पर बवाल मचा हुआ है. राजनीतिक दल लगातार कंगना को अपने निशाने पर ले रहे हैं. राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े लाल तेज प्रताप यादव (Tej Prtap Yadav) ने फिल्म अदाकार कंगना का एक फोटो शेयर करते हुए उनपर तंज कसा

उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा है कि कुछ लोग जब अंग्रेजों से माफी मांग रहे थे तब हमारे देश के वीर जवान फांसी का को गले लगा रहे थे. आगे तेज प्रताप ने लिखा कि देश को आजादी 2014 में मिली यह कहकर स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान न करें. उन्होंने कंगना पर तंज कसा और लिखा कि, अगर आजादी के लिए कुर्बानियां नहीं दी गईं होती तो आज भी किसी अंग्रेज के घर उनके जूत चप्पल साफ कर रहे होते.

देश की आजादी को लेकर कंगना के विवादस्पद बयान को लेकर बिहार में लगातार विरोध चल रहा है. तेज प्रताप यादव से पहले उनकी बहन रोहिणी आचार्या और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी निशान साध चुके हैं. रोहिणी ने कंगना के बयान का विरोध करते हुए सोशल मीडिया पर लिखा था कि, शहीदों की जान जिसे भीख लगती है, फर्जी झांसी की रानू तू देशद्रोही लगती है. इसके पहले हिन्दुस्तानी आवामी मोर्चा के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने पद्म श्री सम्मान वापस लेने की मांग की थी

Leave a Reply