बिहार में हर्ष फायरिंग की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. आए दिन खुशी के मौके पर की जाने वाली फायरिंग की घटना राज्य के अलग-अलग हिस्सों में देखने-सुनने को मिलती हैं. ताजा मामला आरा का है. यहां टाउन थाना क्षेत्र के भलुहीपुर मोहल्ले में मंगलवार की देर रात एक तिलक समारोह में नाच के दौरान कुछ युवकों द्वारा हर्ष फायरिंग की गई. इस घटना में छर्रा लगने से दूल्हा और उसके भांजा समेत तीन लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए. घायलों को इलाज के लिए आरा शहर के बाबू बाजार स्थित निजी अस्पताल में लाया गया जहां ये भर्ती हैं.

जानकारी के अनुसार घायलों में टाउन थाना क्षेत्र के भलुहीपुर मोहल्ला निवासी गौरी शंकर यादव का 18 वर्षीय पुत्र रवि शंकर, मुफस्सिल थाना क्षेत्र के लक्ष्मणपुर गांव निवासी ध्रुव यादव का 18 वर्षीय पुत्र और दूल्हे का रिश्तेदार लल्लू कुमार एवं कृष्णागढ़ थाना क्षेत्र के सरैया गांव निवासी सरोज यादव का 12 वर्षीय पुत्र व दूल्हे का भांजा करण कुमार शामिल है.



नाच देख रहे लोगों को लगी गोली
इसमें दूल्हा गौरी शंकर को दाहिने हाथ में, जख्मी दूल्हे के रिश्तेदार लल्लू कुमार को बाएं हाथ में और बाएं पंजरे में एवं दूल्हे के भांजे करण कुमार को सिर में कई जगहों पर छर्रा लगा है. इधर दूल्हा रवि शंकर ने बताया कि उसकी शादी अगले माह की 2 तारीख को है. मंगलवार को मुफस्सिल थाना क्षेत्र के रत्नदुलारपुर गांव से उसका तिलक आया था. जहां तिलक के दौरान घर के ही बगल में नाच भी हो रहा था एवं सभी लोग तिलक समारोह में नाच देख रहे थे. इसी बीच कुछ युवक वहां आ धमके और फायरिंग शुरू कर दी. जिसमें उसे, उसके रिश्तेदारों को छर्रा लग गया और तीन लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए.

बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा (Minister Sanjay Kumar Jha) ने कहा है कि नेपाल में बांध का कार्य न शुरू होने की वजह से बिहार में बाढ़ (Bihar Flood) के हालात लगातार उत्पन्न हो रहे हैं. उन्होंने कहा है कि जब तक नेपाल में प्रस्तावित उच्च बांध नहीं बन जाता, बिहार को बाढ़ से मुक्ति नहीं मिल सकती. नेपाल (Nepal) में हाई डैम नहीं बनने के कारण बिहार के दो-तिहाई लोग हर साल बाढ़ का दंश झेल रहे हैं. चूंकि यह नेपाल और भारत सरकार (Govt. Of India) के बीच का मामला है, इसलिए बिहार सरकार इस मामले में चाह कर भी कुछ कर नहीं पाती.

Leave a Reply