अगर आप इस महीने यात्रा करने वाले हैं, तो आपके लिए यह खबर अहम है. सेंट्रल रेलवे ने गर्मियों में पैसेंजर्स की भीड़ को देखते हुए समर स्पेशल ट्रेनें चलाने का फैसला किया है. इन ट्रेनों के लिए बुकिंग शुरू हो चुकी है. यात्री इन ट्रेनों में सीटों की बुकिंग कम्प्यूटरीकृत आरक्षण केंद्रों या आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर करा सकते हैं.

गर्मी की छुट्टियों के दौरान यात्रियों की भीड़ को देखते हुए समस्तीपुर और लोकमान्य तिलक टर्मिनस के बीच एक समर स्पेशल 01043/01044 लोकमान्य तिलक-समस्तीपुर-लोकमान्य तिलक सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन का परिचालन करने का निर्णय किया गया है. वहीं, दानापुर और पुणे के बीच भी एक समर स्पेशल 01039/01040 पुणे-दानापुर-पुणे स्पेशल ट्रेन का परिचालन करने का निर्णय किया गया है.

समस्तीपुर और लोकमान्य तिलक टर्मिनस के बीच समर स्पेशल ट्रेन

यह स्पेशल ट्रेन लोकमान्य तिलक टर्मिनस से 10 अप्रैल से 09 जून 2022 तक सप्ताह के प्रत्येक रविवार और गुरुवार को और समस्तीपुर से 11 अप्रैल से 10 जून 2022 तक सप्ताह के प्रत्येक सोमवार और शुक्रवार को परिचालित की जाएगी.

गाड़ी संख्या 01043 लोकमान्य तिलक-समस्तीपुर सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन लोकमान्य तिलक टर्मिनस से 12:15 बजे खुलकर अगले दिन 21:15 बजे समस्तीपुर पहुंचेगी. वापसी में, गाड़ी संख्या 01044 समस्तीपुर-लोकमान्य तिलक सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन समस्तीपुर से 23:30 बजे खुलकर तीसरे दिन 07:40 बजे लोकमान्य तिलक टर्मिनस पहुंचेगी. यह स्पेशल ट्रेन समस्तीपुर और लोकमान्य तिलक टर्मिनस के बीच मुजफ्फरपुर, हाजीपुर, पाटलिपुत्र, दानापुर, आरा, बक्सर, पं. दीन दयाल उपाध्याय जं., मिर्जापुर, प्रयागराज छिवकी, मनिकपुर, सतना, मैहर, कटनी, जबलपुर, पिपरिया, इटारसी, खंडवा, भुसावल, नासिक रोड, इगतपुरी और कल्याण स्टेशनों पर रुकेगी.

बिहार में महापुरुषों के बहाने जाति की राजनीति की जाती रही है. सभी दलों की तरफ से महापुरुषों की जयंती मना कर उस समाज के वोटरों को गोलबंद किया जाता रहा है. अब बीजेपी ने सम्राट अशोक जयंती समारोह आयोजित कर बड़ा मेसेज दिया है. इस कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव, यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, नित्यानंद राय, सम्राट चौधरी समेत कई अन्य नेताओं ने शिरकत किया.

वहीं, पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने सभा में मंत्री सम्राट चौधरी से कहा कि सम्राट अशोक की जयंती पर अगले साल गांधी मैदान में 1 लाख से अधिक लोगों का जुटान करें. जहां राम हैं, वहीं पर लव-कुश हैं. सबसे पहले सूरज नंदन कुशवाहा ने महान सम्राट अशोक की जयंती मनाई. सम्राट अशोक पर पहली बार पीएम मोदी की सरकार ने डाक टिकट जारी किया. बिहार सरकार को भी सम्राट अशोक की जयंती पर सार्वजनिक अवकाश देने का एलान करना पड़ा.

Leave a Reply