भागलपुर जिले के नाथनगर थाना क्षेत्र के दिलदारपुर बिंदटोला इलाके में रविवार देर रात नाव से रास्ता पार नहीं कराने पर दबंगों ने नाविक बबलू महतो (26) को गोली मार दी। गले में गोली लगने से घायल नाविक पूर्व वार्ड सदस्य संगीता देवी का बेटा है। परिजनों ने उसे मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां डॉक्टर गले से गोली निकालने का प्रयास कर रहे हैं। 

बबलू महतो ने बताया कि रविवार रात साढ़े 10 बजे सुभाष महतो खरीक थाना क्षेत्र के बहतरा स्थित बिंदटोली निवासी संजय महतो सहित तीन लोगों को दिलदारपुर घाट से विश्वविद्यालय घाट छोड़ने आये थे। सुभाष दिलदारपुर घाट पर ही रुक गया, जबकि संजय महतो और एक व्यक्ति नाव से उसपार विश्वविद्यालय घाट गए। करीब डेढ़ घंटे बाद रात सवा 12 बजे एक व्यक्ति को विश्वविद्यालय घाट छोड़कर संजय महतो के साथ वापस दिलदारपुर घाट आ गये। फिर नाव बांधकर दिलदारपुर घाट पर ही सो गए। दोबारा फिर संजय महतो ने विश्वविद्यालय घाट पर चलने का दबाव बनाया। 

जब उनसे छोटी नाव लेकर उन्हें खुद जाने को कहा तो सुभाष महतो और संजय महतो आग बबूला हो गए और  संजय महतो ने नाव पर चढ़कर सीधे उन्हें गले के पास गोली मार दी। फार्यंरग की आवाज सुनकर अन्य नाविक उन्हें बचाने दौड़े तो आरोपी अपना झोला छोड़कर ही फरार हो गया। घटना को लेकर नाथनगर इंस्पेक्टर मो.सज्जाद हुसैन ने बताया कि घटना देर रात की है। घायल का इलाज मायागंज अस्पताल में चल रहा है। फर्द बयान दर्ज कर नामजद एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तार किया जाएगा।

घायल बबलू महतो की मां पूर्व वार्ड पार्षद संगीता देवी ने बताया कि सुभाष महतो पूर्व से ही उनके पुत्र बबलू महतो के साथ विवाद करते आ रहा है। चार पांच दिन पहले भी बच्चों के कारण भी उसने विवाद किया था और जान मारने की धमकी दी थी।

Leave a Reply