गोपालगंज. पंचायत चुनाव के नौवें चरण में 29 नवंबर को मतदान है. मतदान से पहले एक मुखिया प्रत्याशी चिकेन-पलॉव की दावत देकर बुरी तरह फंस गया है. चिकेन-पलॉव की दावत की खबर मिलते ही डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी और एसपी आनंद कुमार ने छापेमारी कर दी.

साढ़े तीन क्विंटल चिकेन जब्त किया गया, जबकि एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है. वहीं दावत में खाने पहुंचे लोगों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया. मामला सदर प्रखंड के जादोपुर दु:खहरण पंचायत का है. पार्टी के लिए बड़ा सा टेंट लगाया गया था

बुधवार की देर शाम हुई कार्रवाई के बाद डीएम ने बताया कि मुखिया प्रत्याशी राजकुमारी राय के पति राजेंद्र सिंह की ओर से मशानथाना गांव में अपने चुनाव प्रतिनिधि प्रदीप सिंह के दरवाजे पर चिकेन-पलॉव का भोज रखा गया था. भोज में काफी संख्या में गांव के लोगों को आमंत्रित किया गया था, जो आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है.

सूचना मिलते ही डीएम और एसपी पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचकर छापेमारी की. छापेमारी के दौरान अफरा-तफरी मच गयी. भोज में पहुंचे लोग पुलिस को देखते ही भागने लगे. इस दौरान मुखिया प्रत्याशी के प्रतिनिधि प्रदीप सिंह को गिरफ्तार किया गया. वहीं पुलिस को इस मामले में कार्रवाई करने का आदेश दिया गया.

इधर, डीएम-एसपी की छापेमारी के बाद अधिकारियों ने जादोपुर थाने की पुलिस की भूमिका की जांच शुरू कर दी है. पंचायत चुनाव के दौरान इतने बड़े आयोजन की खबर थाने को कैसे नहीं थी, यह बड़ा सवाल है. डीएम ने कड़ी नाराजगी जतायी और मामले में पुलिस के भूमिका की जांच करने का आदेश दिया है.

Leave a Reply