बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) प्रत्येक सोमवार को आम लोगों की फरियाद सुनने के लिए ‘जनता दरबार’ लगाते हैं. इसी क्रम में आज सीएम नीतीश कुमार मुख्‍य रूप से पुलिस व जमीन से जुड़े मामले सुन रहे हैं. जनता दरबार में पहुंचने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया जाता है लेकिन कई लोग जानकारी के अभाव में ऐसे भी पहुंच गए जिसे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने नहीं दिया गया.

बताया जाता है कि महिला भभुआ जिले के कुदरा थाना क्षेत्र से अपनी शिकायत लेकर आई थी. 60 वर्षीय महिला सोना कुंवर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलकर जनता दरबार में नींबू, भैंस और बकरी चोरी की शिकायत करना चाहती थी. महिला का कहना था कि गांव के दबंगों ने तीन भैंस, छह खस्सी (बकरा) और एक बकरी चुरा ली है. पड़ोसियों ने बगीचे से नींबू, कटहल और अमरूद चुरा लिया है. इतना होने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है.

जनता दरबार के बाहर ही महिला ने बताया कि उसने स्थानीय थाने में इसकी शिकायत की, जिले के सभी अधिकारियों के पास भी शिकायत लेकर पहुंची लेकिन कहीं से कोई कार्रवाई नहीं की गई. उसने कहा कि कुदरा थाना का दारोगा कहता है कि जहां जाना है जाओ. इसलिए वह आज जनता दरबार में अपनी शिकायत करने के लिए पहुंची थी. हालांकि जनता दरबार में जाने से उसे रोक दिया गया.

बता दें कि जनता दरबार में गृह विभाग, राजस्‍व एवं भूमि सुधार, मद्य निषेध, उत्‍पाद एवं निबंधन आदि से जुड़ी शिकायतें सुनी जाती हैं. जनता दरबार में शिकायत लेकर जाने से पहले ऑनलाइन आवेदन किया जाता है, लेकिन महिला सीधा आवेदन लेकर पहुंची थी. इसलिए सुरक्षाकर्मियों ने मुख्यमंत्री से मिलने नहीं दिया.

Leave a Reply