cash

बिहार के भू-अर्जन पदाधिकारी और रोहतास के नगर निगम आयुक्त राजेश कुमार गुप्ता के कई ठिकानों पर निगरानी टीम ने छापेमारी की है. निगरानी टीम भू-अर्जन पदाधिकारी राजेश कुमार गुप्ता के पटना, रोहतास और फारबिसगंज स्थित आवास पर एक साथ छापेमारी की. निगरानी ब्यूरो से मिली जानकारी के अनुसार अब तक कि कार्रवाई में राजेश कुमार के पास से 50 करोड़ से अधिक की काली कमाई मिली है.

बिहार में भ्रष्टाचार के अकूत संपत्ति अर्जित करने वाले अफसरों की संपत्ति निगरानी विभाग को भी चौंका रही है. बिहार के भू-अर्जन पदाधिकारी और रोहतास के नगर निगम आयुक्त राजेश कुमार गुप्ता की संपत्ती पीछले दिनों खंगाली थी. पटना, अररिया और सासाराम में हुई छापेमारी में भू-अर्जन पदाधिकारी सह नगर निगम आयुक्त जो संपत्ती निकलकर सामने आयी है उससे निगरानी विभाग के अधिकारी भी हैरान है. दरअसल, संपत्ती कागजों पर भले ही कम दिख रही हो पर उसका बाजार मूल्य 50 करोड़ के करीब तक पहुंच गया है.

छापेमारी के दौरान निगरानी टीम को अकूत संपत्ति मिली है. इनमें लाखों की ज्वेलरी, लाखों नकद रुपये सहित करोड़ों की जमीन के कागजात बरामद हुए है. इनके पास इतने रुपये मिले है कि विजिलेंस की टीम बरामद रुपयों को गिनते-गिनते थक गई . सासाराम में ऑफिसर कॉलोनी स्थित उनके सरकारी आवास से 11.5 लाख की ज्वेलरी, 4.75 लाख नकद, पटना में नागेश्वर कालोनी अपार्टमेंट के फ्लैट से 15 लाख कैश, पटना में जमीन के 7 प्लॉट के कागजात के अलावे एलआईसी और सहारा इंडिया में लाखों रुपये की फिक्स डिपॉजिट के कागजात बरामद किए गए हैं

Leave a Reply