पटना के मसौढ़ी में एक पेशेवर महिला ठग दुकानदार की सूझबूझ और सतर्कता से पुलिस के हाथ लग गई। वह मसौढ़ी थाना के रहमतगंज में एक शृंगार दुकान में असली बता नकली जेवर बेचने के प्रयास में थी। दरअसल, महिला इस बाजार के कई दुकानदारों को पहले भी अपनी ठगी का शिकार बना चुकी है। पीड़‍ित दुकानदार तो दोबारा उसके जाल में फंस गया था, लेकिन अचानक उसे पुराना वाकया याद आ गया। धनरुआ थाना के बरनी गांव के राजेश कुमार की शिकायत पर पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

राजेश ने स्थानीय रहमतगंज मोहल्ला में शृंगार की एक दुकान खोल रखी है। शनिवार को दोपहर एक महिला 250 ग्राम की एक नकली राजकोर्ट बाली लेकर उसकी दुकान में पहुंची और उसे सोना का बता उसने बेचने की इच्छा  जताई। सात हजार रुपये में सौदा भी तय हो गया, लेकिन इसी दौरान दुकानदार राजेश को कुछ शक हुआ और उसने पुलिस को इसकी सूचना दे दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने ठगी करने के आरोप में नकली बाली के साथ महिला को गिरफ्तार कर लिया और उसे थाना ले गई। पूछताछ में महिला ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया।

ठग महिलाओं का है एक गैंग

बताया जाता है कि गिरफ्तार महिला शहनाज खातून का एक गैंग है जो मसौढ़ी बाजार समेत अन्य जगहों पर सक्रिय है व इस तरह की ठगी किया करता है। इधर पुलिस ने बताया कि महिला से पूछताछ कर उसके गैंग की जानकारी लेने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave a Reply