बिहार के करीब नौ लाख छात्र-छात्राओं को जल्‍द ही खुशखबरी मिलने वाली है। सरकार इन छात्र-छात्राओं के बैंक खाते में मोटी राशि ट्रांसफर करने की तैयारी में जुट गई है। यह पैसा पोस्‍ट मैट्रिक स्‍कालरशिप का है। अगर आप भी इस छात्रवृत्ति के लिए योग्‍य हैं तो अपने बैंक पासबुक को चेक करते रहिए। दरअसल, राज्‍य में पिछले तीन सालों से पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप का वितरण नहीं हो सका है। हालांकि, तीन वर्षों से छात्रवृत्ति से वंचित तकरीबन नौ लाख छात्र-छात्राओं के बीच छात्रवृत्ति की राशि बंटने का रास्ता साफ हो गया।

वित्‍त विभाग से प्रस्‍ताव को मिली मंजूरी

वित्त विभाग की सहमति मिलने के बाद पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप योजना के तहत करीब 3 हजार करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति राशि बांटने की तैयारी शुरू हो गयी है। इसके लिए पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग द्वारा 3 हजार करोड़ रुपये का प्रस्ताव वित्त विभाग को भेजा गया था जहां से प्रस्ताव पर मंजूरी मिल गयी है। जानकारी के मुताबिक वित्त वर्ष 2019-20 के लिए 1 लाख 83 हजार 193 एवं वित्त वर्ष 2021-22 के लिए तीन लाख 23 हजार 366 और वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 3 लाख 51 हजार 844 विद्यार्थियों के आवेदन आए हैं।

One thought on “बिहार के नौ लाख छात्र-छात्राओं के बीच बंटेंगे तीन हजार करोड़ रुपए, जानिए किनको मिलेगा इसका लाभ”

Leave a Reply