नवादा जिले के उग्रवाद प्रभावित गोविन्दपुर थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव के समीप एक सनकी युवक ने अपनी पत्नी व दो छोटी बच्चियों की पसुली से गला रेतकर हत्या कर दी। घटना शुक्रवार दोपहर करीब दो बजे माधोपुर गांव से करीब 3-4 किलोमीटर दूर जंगल किनारे एक झोपड़ी के पास की बताई जा रही है। सूचना मिलने के बाद गांव पहुंची पुलिस ने हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया। उसकी निशानदेही पर झोपड़ी के समीप से हत्या के लिए इस्तेमाल किया गया पसुली बरामद कर लिया गया है। 

जानकारी के अनुसार हत्यारा दीपक चौधरी (30 वर्ष)  माधोपुर गांव के श्रवण चौधरी का बेटा था। वह खेती-बाड़ी व मजदूरी के अलावा पेशागत ताड़ी उतारने का काम करता था। मृतकों में उसकी पत्नी सावित्री देवी (25 वर्ष), उसकी बेटियां काजू कुमारी (03 वर्ष) व दिव्या कुमारी (01 वर्ष) शामिल हैं। पुलिस ने पंचनामा तैयार करने के बाद तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल नवादा भेज दिया। 

बताया जाता है कि दीपक चौधरी अपनी पत्नी व बच्चों के साथ माधोपुर गांव में रहता था। लेकिन कुछ दिनों से वह अपने मवेशियों के लिए गांव से दूर जंगल किनारे बनायी गयी झोपड़ीनुमा घर में रहने लगा था। आसपास खेती व मजदूरी का भी काम करता था। घटना के वक्त उसकी पत्नी सावित्री देवी अपनी दोनों बच्चियों के संग उसका खाना लेकर उसी झोपड़ीनुमा घर के पास गयी थी। इसी दौरान उसने पत्नी को झोपड़ी के आगे पड़े खटिया में बांध दिया और पसुली से गला रेत दिया,जिससे उसकी मौत हो गयी। इसके बाद उसने दोनों बच्चियों की भी गला रेत कर हत्या कर दी। 

ग्रामीणों द्वारा घटना की सूचना मिलने पर गोविन्दपुर थानाध्यक्ष नरेन्द्र कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने गांव पहुंचकर उसे गिरफ्तार कर लिया। वह पुलिस से बचने के लिए गांव में ही छुप गया था। वहीं घटनास्थल से तीनों के शव बरामद किये गये। ग्रामीणों के मुताबिक हत्यारा पूर्व से ही सनकी किस्म का युवक था। ताजा जानकारी मिलने तक इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं की जा सकी थी। मृतका के मायके वाले घटना की सूचना पर थाना पहुंच गये थे। 

रजौली एसडीपीओ संजय कुमार पांडेय ने बताया है कि माधोपुर गांव से 3-4 किमी दूर जंगल के किनारे एक युवक द्वारा पत्नी और दो छोटी बच्चियों की पसुली से गर्दन रेत कर हत्या कर दी गयी। वहां पर हत्यारे ने मवेशियों के रखने के लिए झोपड़ी बना रखी थी। पत्नी गांव से खाना लेकर बच्चियों के साथ वहां गयी। इसी दौरान उसने तीनों की बारी-बारी से गला रेत कर हत्या कर दी। हत्या के बाद वह गांव में छुपा हुआ था। उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वह मानसिक रूप से अस्वस्थ प्रतीत होता है। मर्डर विपन बरामद कर लिया गया है। पूछताछ के बाद घटना का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

Leave a Reply