बिहार में मौसम का मिजाज कई जिलों में बदला है. राज्य भर में मौसम की दो तरह की स्थिति बनी हुई है. लगातार सूबे के अलग-अलग भाग में पुरवा और पछुआ के बहाव से आंधी पानी की परिस्थितियां तैयार हो सकती हैं. उत्तरी बिहार में नमी युक्त पुरवैया हवा चल रही है जिसके चलते पूर्वी और पश्चिमी चंपारण से लेकर किशनगंज और अररिया तक बारिश का अनुमान है वहीं दक्षिण बिहार में पछुआ हवा चल रही है.

खड़ी फसलों को भारी नुकसान
किशनगंज में कल यानी रविवार को अचानक ने मौसम ने करवट ली. यहां पोठिया और ठाकुरगंज प्रखंड में तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई जिससे खेतों में खड़ी मक्का गेहूं और अनानास की फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है. किसान फसल को काटने की तैयारी में थे तभी प्रकृति के प्रकोप ने उन्हें बर्बाद कर दिया. आंधी से नुकसान का पदाधिकारी जायजा लेंगे.

रबी की फसल बर्बाद
बगहा में भी मौसम का असर देखने को मिला. यहां वाल्मीकिनगर में भारी बारिश और ओले गिरने के चलते गेहूं की खड़ी फसल बर्बाद हो गई. बगहा के वाल्मीकिनगर, सेमरा, चौतरवा और भैरोगंज के इलाके में गेहूं की फसल के साथ ही रबी की फसल को भी भारी नुकसान हुआ है. वैसे असमय वर्षा से लोगों को तो राहत मिली है लेकिन किसानों की कमर तोड़ दी है.

सीमावर्ती इलाकों में ओलावृष्टि
बेतिया में रविवार की देर रात मौसम ने अचानक मिजाज बदला और तेज हवा के साथ लगभग आधे घंटे बारिश हुई. बारिश से तापमान में काफी गिरावट आई. दोपहर तक लोगों का गर्मी से बुरा हाल था लोकिन बारिश और तेज हवा चलने से मौसम काफी ठंडा हो गया. नरकटियागंज और भारत नेपाल के सीमावर्ती इलाकों में ओलावृष्टि भी हुई है जिससे आम और लीची की फसलों को नुकसान पहुंचा है.

कुछ जिलों में आज लू की स्थिति
बिहार के कई इलाके में भीषण गर्मी का कहर जारी है. जगह-जगह वायुमंडल में बादलों के सेल तैयार हो रहे हैं जिसके चलते कुछ जगहों पर काल वैशाखी की सक्रियता दिख सकती है. अगले एक हफ्ते में राज्य में कुछ जगहों पर धूल भरी आंधी और पानी के आसार बन सकते हैं. दिन के शुरू में तापमान काफी ज्यादा रहेगा जबकि दोपहर बाद मौसम में बदलाव दिखेगा. बक्सर, गया, औरंगाबाद, रोहतास, नवादा, बांका और आसपास के एक दो जिलों में लू की स्थिति बनी हुई है. दक्षिण बिहार के कुछ जिलों में आज लू की स्थिति बनी रह सकती है. अभी दक्षिण बिहार के कई इलाकों में हीट वेव से निजात मिलने के आसार नहीं है.

Leave a Reply