इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है. एक CRPF जवान अपने साथियों पर AK-47 से फायरिंग कर दी. इस घटना में 4 जवानों की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि 3 जवान घायल बताये जा रहे हैं. सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. घटना के बाद आरोपी जवान को हिरासत में ले लिया गया है.

मामला छत्तीसगढ़ के सुकमा में कोंटा विकासखंड के ग्राम लिंगनपल्ली स्थित 217 बटालियन कैंप का है. बताया जाता है कि CRPF जवान रितेश रंजन ने अपने साथियों पर फायरिंग कर दी. गोली लगने से 1 जवान की मौके पर ही मौत हो गई. इसी कैंप में 85वीं बटालियन के जवानों का भी कैंप है. गोली चलने से हड़कंप मच गया. अन्य जवान दौड़ कर मौके पर पहुंचे. इसके बाद अफसरों को जानकारी दी गई.

घायल 5 जवानों को कैंप से करीब 11 किमी दूर तेलंगाना स्थित भद्राचलम के अस्पताल ले जाया गया. वहां पर इलाज के दौरान 3 जवानों ने दम तोड़ दिया, जबकि 2 अन्य की हालत गंभीर देख उन्हें चॉपर से रायपुर रेफर किया जा रहा है. सीआरपीएफ के अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं. सुकमा पुलिस अधीक्षक सुनील शर्मा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि घायल जवानों को अभी तेलंगाना के भद्राचलम में इलाज के लिए भेजा गया है.

बताया जा रहा है कि आरोपी जवान देर रात नक्सली क्षेत्र में ड्यूटी पर तैनात था. इसी दौरान जवानों के बीच कुछ विवाद हो गया, जो हिंसा में बदल गया. इसके बाद सीआरपीएफ जवान आपे से बाहर हो गया और उसने गोलीबारी शुरू कर दी. इसी घटना में चार सीआरपीएफ जवानों की मौत हो गई. इस फायरिंग की घटना में मारे गए 2 जवान बिहार के रहने वाले थे, जबकि 1 पश्चिम बंगाल का निवासी था. चौथे जवान को लेकर अभी जानकारी नहीं मिल सकी है.



मृतक जवानों में बिहार निवासी धांजी और राजमणि कुमार यादव और पश्चिम बंगाल निवासी राजीब मंडल के अलावा एक अन्य जवान धर्मेंद्र कुमार शामिल हैं. इनके अलावा जवान धर्मेंद्र कुमार सिंह, धर्मात्मा कुमार और मालया रंजन महाराणा घायल हैं.

Leave a Reply