करनाल में लड़के वालों की तरफ से दहेज में 20 लाख रुपये और फॉर्च्यूनर गाड़ी मांगने के चर्चित मामले में अब नया मोड़ आ गया है. अब लड़के नसीब ने देश और लड़की के परिवार से माफी मांग ली है. नसीब ने कहा कि “मैं पूरे देश से माफी मांगता हूं, दहेज समाज में बहुत बड़ी बुराई है, लोग मुझे माफ़ कर दें, लोग ऐसा काम ना करें जिससे किसी की भावना को ठेस पहुंचे. दहेज एक सामाजिक बुराई है, पढ़े-लिखे लोगों को इससे दूर रहना चाहिए, गलती हुई है और मैं इसे ज़िन्दगी में कभी दोहराना नहीं चाहूंगा, दूसरों को भी संदेश देता हूं कि अपने आदर्श पर रहो, सच्चाई के साथ रहो, जो कमाना है अपने आप कमाओ, वही आपका है.”

करनाल. हरियाणा के करनाल जिले में शादी (Marriage) में दहेज (Dowry) के अंदर फॉर्च्यूनर (Fortuner) गाड़ी और 20 लाख रुपए और सोने की चेन मांगने के मामले में अब दूल्हे (Groom) ने मीडिया के सामने सार्वजनिक रूप से माफी मांग ली है. आपको बता दें कि जींद निवासी नसीब, जो मेघालय में कृषि विभाग में वैज्ञानिक है, उसकी शादी कोमल के साथ हो रही थी, जोकि लॉ में पीएचडी कर रही है. और हरियाणा शिक्षा विभाग में लीगल एडवाइजर है. लेकिन दहेज के चलते फेरे से पहले ही ये शादी टूट जाती है.

असल में, लड़की वालों ने ये आरोप लगाया था कि लड़के और उसके परिवार वालों ने सोने की चेन की डिमांड करके हंगामा शुरू किया, फिर 20 लाख रुपए और फॉर्च्यूनर गाड़ी की डिमांड कर दी. जब ये डिमांड पूरी नही हुई तो शादी के फेरे ही नहीं करवाए. इस मामले में रोजाना नए मोड़ भी आ रहे थे, लड़के पक्ष की तरफ से एक रिकॉर्डिंग सामने आई, जिसमें वो खुद गाड़ी के लिए मना कर रहे थे.

पुलिस ने मामला लड़के, उसके पिता और उसके लड़के के भाई के खिलाफ दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी थी. हरियाणा महिला आयोग ने भी इस मामले में संज्ञान ले लिया था. अब इस मामले में लड़के ने देश और लड़की के परिवार से माफी मांग ली है.

नसीब ने आगे कहा कि “लड़की और उसके परिवार से भी माफी मांगता हूं, मैं अपनी गलती मानता हूं, मैं चाहता हूं विवाद खत्म हो जाए, दोनों परिवारों के बीच मन मुटाव ना रहे, मार्च में मेरा रिश्ता पक्का हुआ था, जो रिकॉर्डिंग मैंने मीडिया में दी थी वो 1 से 2 महीने पुरानी थी. दोनों परिवारों के बीच समझौता हो गया है. मैं उस परिवार की इज़्ज़त करता हूं, बस समय खराब था. मैं अपनी गलती को स्वीकार करता हूं, हम सब माफी चाहते हैं. आगे से ध्यान रखेंगे, दोनों परिवारों को काफी मानसिक परेशानी हो रही है, खाना नहीं खा पा रहे, सो नही पा रहे. मेरी तरफ से विवाद खत्म, मैं चाहता हूं कि वो भी कोई द्वेष ना लाएं.”

लड़की के पिता ने आगे कहा, “मैं पूरे देश से अपील करूंगा कि कोई भी दहेज ना ले और जो हमारे साथ हुआ है, वो किसी के साथ ना हो, हमसे वरमाला से पहले पैसे और गाड़ी की डिमांड कर दी और बार बार बोलते रहे. हम पूरी रात हाथ जोड़ते रहे, पैर पकड़ते रहे और वो हमसे दुर्व्यवहार करते रहे. कोई भी पिता नहीं चाहेगा कि उसकी बेटी दुल्हन बनी हो और उसके साथ ऐसा हो, जब पूरी रात वो नही माने तो सुबह जाकर हमने पुलिस और मीडिया को बुलाया. मामला पुलिस में हमने दिया था अब उन्होंने माफी मांग ली है तो मैं वापिस ले लूंगा. अपनी बच्ची के उज्ज्वल भविष्य के लिए सब करूंगा.”

Leave a Reply