शनिवार को दिलचस्प नजारा देखनो को मिला. यहां एक दुल्हन हाथों पर मेहंदी रचाए मंडप में दूल्हे के इंतजार में बैठी रही. उसका दूल्हा 3 घंटे बाद आया और फिर वरमाला डालकर 7 फेरे लिए. इसकी वजह थी दसवीं की परीक्षा का पेपर. दूल्हा शादी के ठीक पहले परीक्षा देने गया था. उसने उसके बाद ही नए जीवन की शुरुआत की.

गौरतलब है कि छतरपुर के कल्याण मंडपम में बुंदेलखंड परिवार ने सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया था. यहां एक साथ 11 जोड़ों की शादियां होनी थीं. इन्हीं एक जोड़ा था रामजी सेन और प्रीति सेन का. रामजी की उम्र 21 साल और प्रीति की उम्र 19 साल थी. इस बीच रामजी परीक्षा देने मंडप छोड़कर चला गया. प्रीति भी स्टेज पर बैठी उसका इंतजार करने लगी.

दूल्हा 3 घंटे बाद मंडप पर पहुंचा क्योंकि दूल्हा 10वीं परीक्षा के लिए एग्जाम देने चला गया था. परीक्षा खत्म होते ही दूल्हा मंडप पर पहुंचा और अपने जीवन की नई पारी की शुरुआत की. दूल्हा रामजी सेन ने बताया कि उन्होंने साल भर एग्जाम देने के लिए तैयारी की थी. उन्हें लगा कि शादी से पहले ये परीक्षा जरूरी है. इससे पूरे साल भर की पढ़ाई बर्बाद हो जाती. इसलिए उन्होंने शादी से पहले परीक्षा देने का फैसला किया. वहीं दुल्हन प्रीति सेन ने अपने होने वाले पति के इस व्यवहार की खूब तारीफ की.

दुल्हन ने कहा कि पढ़ाई को लेकर इतनी गंभीरता बहुत ही अच्छी बात है. रामजी ने बताया की 10वीं की सोशल साइंस की परीक्षा थी. दूल्हा पेपर देकर तीन घंटे बाद लौटा और फिर विवाह की रस्में निभाईं. उन्होंने कहा कि आज जीवन के 2 एग्जाम हुए हैं. एक एग्जाम स्कूल का और दूसरा एग्जाम उसकी जिंदगी का. उम्मीद कर रहे हैं हमें दोनों में सफलता जरूर मिलेगी. बता दें कि छतरपुर के कल्याण मंडप में बुंदेलखंड परिवार द्वारा सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया गया था. यहां एक साथ 11 जोड़ों ने शादी की. ये जोड़े शादी के दौरान सभी बेहद खुश थे.

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply