राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव रांची रिम्स और दिल्ली एम्स के बीच फंसे हुए हैं. पहले तो उनकी बिगड़ती सेहत को देखते हुए रांची रिम्स से उन्हें एयर एंबुलेंस से दिल्ली एम्स भेजा गया. लेकिन फिर खबर आई कि एम्स ने उन्हें एडमिट करने से इंकार कर दिया. रात भर इमरजेंसी में उन्हें ऑब्जर्वेशन में रखा गया था. आज सुबह 4 बजे उन्हें वापस रिम्स, रांची लौटने के लिए कहा गया.

लालू प्रसाद के आज दोपहर 3:00 बजे चार्टर्ड फ्लाइट से वापस रांची आने की खबर थी. लेकिन इस बीच फिर खबर आ रही है कि उसमें बताया जा रहा है की लालू यादव को अब वापस एम्स बुलाया जा रहा है. लालू यादव को एयरपोर्ट से वापस बुलाया गया. एयरपोर्ट जाते वक़्त तबियत ज्यादा ख़राब हो गई थी. एम्स के इमरजेंसी वार्ड में लालू को भर्ती किया गया.

इस बीच बिहार विधानसभा में राजद विधायकों ने एम्स में इलाज नहीं कराये जाने का विरोध किया और कहा कि लालू यादव के जान को खतरा है. उनके साथ साजिश किया जा रहा है. राजद के मुख्य प्रवक्ता भाई विरेंद्र ने कहा कि लालू यादव की सेहत ठीक नहीं होने के कारण उन्हें रांची के रिम्स से एम्स भेजा गया था लेकिन एम्स का लालू को वापस रिम्स भेजने का निर्णय हैरान करता है. भाई वीरेंद्र ने कहा कि ऐसा लगता है कि केंद्र और राज्य सरकार मिलीभगत से वहां लालू यादव का उपचार नहीं हो रहा है. यह लालू यादव को मारने की साजिश है. उन्होंने सीधे तौर पर इसके लिए केंद्र औरबिहार की नीतीश सरकार पर साजिश रचने का आरोप लगाया.

वहीं विपक्ष के इस आरोप पर बिहार सरकार के मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि किसी की तबीयत खराब होने पर कोई अस्पताल इलाज करने से इंकार नहीं कर सकता. और जहां तक साजिश का मामला है वह कोई डॉक्टर अपने मरीज के साथ ऐसा नहीं कर सकता है.



गौरतलब है कि चारा घोटाले के एक मामले में पिछले महीने लालू यादव को सीबीआई कोर्ट ने सजा सुनाई थी. उन्हें रिम्स में उपचाररत रखा गया है. मंगलवार को ऐसी खबर आई कि लालू की सेहत ज्यादा बिगड़ गई है जिसके बाद उन्हें शाम में दिल्ली भेजा गया. इस बीच बुधवार को एम्स ने लालू की सेहत को उस प्रकार का गंभीर नहीं माना और उन्हें वापस रांची भेजा जा रहा है.

Leave a Reply