मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चैत्र नवरात्र के अवसर पर आज रामनवमी के दिन कन्याओं और बटुकों का पूजन अर्चन किया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले कन्याओं के पांव पखारे. इसके बाद उन्हें चुनरी उड़ा कर माथे पर तिलक लगाया और उन्हें भोजन कराए. उन्होंने कन्या पूजन के पहले आदि शक्ति मां भगवती दुर्गा की पूजा अर्चना की उसके बाद मां दुर्गा के विभिन्न नौ रूपों के प्रति कन्याओं की पूजा अर्चन की और विधि विधान और श्रद्धा और सम्मान का भाव रखते हुए इस कार्य को संपन्न किया

सीएम योगी ने कन्याओं का किया पूजन
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर स्थित नवनिर्मित अन्न क्षेत्र हॉल में कन्या एवं लांगुरों की पूजा की. उन्होंने कन्याओं का पांव पखारे और उन्हें तिलक लगाया. इसके बाद उनके कन्याओं को चुनरी उड़ाई. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कन्याओं की आरती उतारी और उन्हें भोजन कराकर दक्षिणा भी दी.

सीएम योगी ने अपने संबोधन में कही ये बात
मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि, आज वासंती नवरात्र का नवमी तिथि है, चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की प्रथम 9 तिथियों में नारी शक्ति मां भगवती की विशेष अनुष्ठान आयोजन वासंती नवरात्र के रूप में सनातन धर्मावलियों के द्वारा किया जाता है. इस अवसर पर परंपरागत रूप से 9 दिनों तक आदिशक्ति मां भगवती जो यह पूरे जगत की आदिशक्ति है कि अनुष्ठान पूजन के उपरांत मातृशक्ति के प्रति सम्मान का भाव रखते हुए कुंवारी कन्याओं के पूजन का कार्यक्रम अभी यहां पर संपन्न हुआ है.

भारतीय परंपरा में मातृशक्ति का सदैव सर्वोपरि स्थान
उन्होंने कहा कि, भारतीय परंपरा में मातृशक्ति का सदैव सर्वोपरि स्थान रहा है, और उसी परंपरा का निर्वहन करते हुए वह वासंतिक नवरात्रि हो या शारदीय नवरात्रि दोनों अवसरों पर इस पवित्र कार्यक्रमों के साथ जुड़ने का सौभाग्य पूरे देशवासियों को प्राप्त होता है. आज नवमी की स्थिति पर कुंवारी कन्याओं के पूजन का नवदुर्गा स्वरूप 9 कन्याओं के पूजन का कार्य यहां पर संपन्न हुआ है और इसके साथ ही वासंती नवरात्र का यह कार्यक्रम संपन्न होगा.

Leave a Reply