पंजाब के गायक सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) की हत्या में शामिल बदमाशों की परतें धीरे-धीरे खुलती जा रही हैं. पुलिस की जांच में सामने आया है कि हत्याकांड में शामिल 2 शॉर्प शूटर सोनीपत के रहने वाले हैं. दोनों बदमाश अपने घरों से फरार हैं. उन पर विभिन्न थानों में कई मुकदमे दर्ज हैं. पुलिस उनके ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

सोनीपत के ये दोनों बदमाश भी हत्या में थे शामिल?
सूत्रों के मुताबिक गायक सिद्धू मुसेवाला की हत्या में सोनीपत के प्रियव्रत फौजी और अंकित सेरसा जाटी भी शामिल रहे हैं. प्रियव्रत फौजी गांव सिसाना गड़ी का रहने वाला है, वहीं अंकित सोनीपत का निवासी है. अंकित की पुलिस के पास कोई क्राइम हिस्ट्री नहीं है. वहीं प्रियव्रत फौजी पर 2 मर्डर समेत कई मुकदमे दर्ज हैं.

रामकरण गैंग का शॉर्प शूटर रहा है प्रियव्रत फौजी
पुलिस के मुताबिक गैंगस्टर बिट्टू बरोणा के पिता की पिछले साल 18 मार्च 2021 को सोनीपत में हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड में प्रियव्रत फौजी शामिल था. वह रामकरण गैंग का शार्प शूटर भी रहा है. दोनों बदमाश सिद्धू मूसेवाला की हत्या में किसके कहने पर शामिल हुए, इस बारे में पुलिस जांच में जुटी है. दोनों बदमाश फिलहाल अपने ठिकानों से फरार हैं. पुलिस उनके परिवार वालों से दोनों की लोकेशन के बारे में पूछताछ कर रही है.

दूसरा गैंग कर सकता है पलटवार
बताते चलें कि सिद्धू मूसावाले (Sidhu Musewala) की हत्या में गैंगस्टर बिश्नोई का नाम सामने आ रहा है. बिश्नोई फिलहाल दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है. कनाडा में बैठे उसके गुर्गे गोल्डी बराड़ ने सोशल मीडिया पर इस हत्याकांड की जिम्मेदारी ली थी. इस मामले में कई दूसरे गिरोहों के भी शामिल होने की आशंका जताई जा रही है. माना जा रहा है कि अगले कुछ दिनों में दूसरा गैंग इसका पलटवार कर सकता है. इसे देखते हुए पुलिस की चिंता बढ़ी हुई है और वह सभी गैंग को खत्म करने की कोशिश में लगी है.

Leave a Reply