pm

मुजफ्फरपुर। पीएम किसान सम्मान निधि योजना मेें बडे पैमाने पर फर्जीवाड़ा पकड़ा गया है। तिरहुत प्रमंंडल स्तर पर जांच में चार लाख 65 हजार 580 लाभुकों के आवेदन में गड़बड़ी पाई गई है। इन आवेदनों को रद कर दिया गया है।

प्रमंडलीय संयुक्त कृषि निदेशक रामप्रकाश सहनी ने बताया कि जांच के बाद आवेदन में अनियमितता करने वालों पर सख्ती होगी। तिरहुत प्रमंडल में आने वाले छह जिलों में जांच में यह बात सामने आई कि 25 लाख आठ हजार 284 लोगों ने आवेदन किया था।

मुजफ्फरपुर में पांच लाख 77 हजार 311, वैशाली में दो लाख 89 हजार 870, सीतामढ़ी में चार लाख 27 हजार 949, शिवहर में 65 हजार 583, पूर्वी चंपारण में सात लाख 941, पश्चिम चंपारण में चार लाख 46 हजार 630 आवेदन आए। इनमें अबतक जांच में चार लाख 65 हजार 580 अयोग्य लाभुकों के आवेदनों को रद कर दिया गया।

संयुक्त कृषि निदेशक सहनी ने कहा कि मुजफ्फरपुर में एक लाख 10 हजार 677, वैशाली में 47 हजार 702, शिवहर में 13 हजार 535, पूर्वी चंपारण में 87 हजार 735 व पश्चिम चंपारण में 74 हजार 922 तथा सीतामढ़ी में एक लाख 31 हजार तीन आवेदनों को रद किया गया है।

सहनी ने बताया कि रद होने की मुख्य वजह किसान के नाम से स्वयं की जमाबंदी नहीं होना, आयकरदाता होना, सरकारी नौकरी में होना आदि शामिल हैं। इसके अलावा पति-पत्नी के अलग-अलग आवेदन हैं। वहीं अधिवक्ता, इंजीनियर, डाक्टर, आर्किटेक्ट तक ने आवेदन कर रखे हैं।

जिला कृषि पदाधिकारी डा.शीलाजीत सिंह ने कहा कि प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि की जांच कराए जाने के बाद फर्जीवाड़ा का मामला सामने आया है। जो पात्र नहीं थे सबने आवेदन किया। वैसे एक लाख 11 हजार 579 की पहचान कर आवेदन रद कर दिया गया है।

दूसरी ओर 4200 वैसे किसान की पहचान हुई है। जिनके खाते में राशि चली गई है। पीएमओ स्तर से जांच में रिपोर्ट आने के बाद वसूली के लिए नोटिस दिया जाएगा। डा.सिंह ने कहा कि तीन करोड़ से ज्यादा की राशि की वसूली की जाएगी।

Input : Jagran.

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply