दरभंगा के बाद अब सारण जिले के छपरा से मिड डे मील को लेकर बड़ी खबर सामने आई है. मध्‍याह्न भोजन (Mid Day Meal) की थाली में मरी हुई छिपकली मिलने से हड़कंप मच गया है. कुछ छात्रों की तबीयत बिगड़ने की बात भी कही जा रही थी, लेकिन डॉक्‍टर ने इसका खंडन किया है. उनका कहना है कि किसी भी छात्र ने दूषित भोजन किया ही नहीं था. दूसरी तरफ, अभिभावकों ने इसको लेकर जमकर विरोध किया. स्‍कूल में एक NGO की ओर से म‍िड डे मील मुहैया कराया जाता है. स्‍कूली छात्रों के अभिभावक अब इस गैर सरकारी संगठन से खाना मंगवाने का विरोध कर रहे हैं. ग्रामीण एनजीओ से खाना मंगवाने के बजाय पुरानी व्‍यवस्‍था को बहाल करने की मांग पर अड़े हैं. मिड डे मील में मरी हुई छिपकली पाए जाने के बाद जिला प्रशासन ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है.

जानकारी के अनुसार, छपरा के सरकारी विद्यालयों में एनजीओ के माध्यम से मिड डे मील उपलब्ध कराया जा रहा है. छपरा सदर ब्लॉक के तेलपा स्थित एक सरकारी विद्यालय में एनजीओ द्वारा उपलब्ध कराए गए भोजन में छिपकली मिलने का मामला सामने आया है. छिपकली मिलने के बाद ग्रामीणों ने हंगामा कर दिया. ग्रामीण एनजीओ का भोजन विद्यालय में नहीं लेना चाहते हैं. वे पुरानी व्यवस्था को लागू कराने की मांग कर रहे हैं. भोजन में छिपकली मिलने के बाद कुछ बच्चों की तबीयत बिगड़ने की बात भी सामने आई थी. हालांकि, चिकित्सक डॉ. एसएस प्रसाद ने बच्चों की तबीयत को पूरी तरह ठीक बताया है. उन्होंने बताया कि किसी भी बच्चे ने दूषित भोजन नहीं किया था. मौके पर पहुंचे वार्ड पार्षद पति राजा बाबू ने बताया कि जब से एनजीओ द्वारा भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है, खाने की गुणवत्ता खराब हो रही है. लोगों की मांग है कि सरकार पूर्व की भांति स्कूल में ही भोजन बनाने की अनुमति दे.

बिहार में नियोजित शिक्षकों के एच्छिक तबादले (Bihar Teachers Transfer) का रास्ता लंबे अरसे के बाद साफ होता हुआ नजर आ रहा है. इस मामले को लेकर नगर विकास विभाग और पंचायती राज विभाग से सहमति मिलने के बाद शिक्षा विभाग द्वारा महिला और दिव्यांग शिक्षकों की गाइडलाइन (Bihar Teachers Transfer Guidelines) तैयार कर ली गई है. महिला और दिव्यांग शिक्षकों का तबादला रिक्ति के आधार पर किया जाना है. सूत्रों की मानें तो अप्रैल-मई महीने से ऐच्छिक तबादले के लिए शिक्षकों से ऑनलाइन आवेदन (Online Application) लिए जाने की संभावना है.

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply