एक मई से तीन मई तक उत्तर बिहार के कई जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश हो सकती है. भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक आसमान में हल्के से मध्यम दर्जे के बादल छाये रह सकते हैं.

इस दौरान सीतामढ़ी, पूर्वी तथा पश्चिमी चंपारण में वर्षा हो सकती है. हवा की गति तेज रहेगी. मई में अधिकतम तापमान 34-35 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है.

न्यूनतम तापमान 22-24 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है़ सापेक्ष आर्द्रता सुबह में 65 से 75 प्रतिशत तथा दोपहर में 45 से 55 प्रतिशत रहने की संभावना है. औसतन 20 से 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पुरवा हवा चलने की संभावना है़.

मौसम वैज्ञानिक ए सत्तार ने किसानों के लिए सुझाव दिया है कि तीन मई के आसपास हल्की बूंदाबांदी तथा कुछ स्थानों में मध्यम वर्षा की संभावना को देखते हुए सतर्कता बरतें.

गेहूं अरहर तथा रबी मक्के की कटनी और सुखाने का काम सावधानी पूर्वक करें. गेहूं की दौनी कर सुरक्षित स्थान पर भंडारित कर लें. फिलहाल खड़ी फसलों में सिंचाई स्थगित रखें.

कीटनाशकों का छिड़काव आसमान साफ रहने पर ही करें. भिंडी की फसल को लीफ हॉपर कीट द्वारा काफी नुकसान होता है़ यह कीट दिखने में सूक्ष्म होता है़.

इसके नवजात एवं व्यस्क दोनों पत्तियों पर चिपक कर रस चुसते हैं. प्रकोप दिखाई देने पर इमिडाक्लोप्रिड 0.5 मिली प्रति लीटर पानी की दर से घोल बनाकर छिड़काव करें.

Input : Prabhat Khabar.

Leave a Reply