अपने तीन बच्चों और पति को छोड़कर फरार हुई सीतामढ़ी की खोपराहा पंचायत की मुखिया रेखा देवी 15 दिन बाद गुरुवार को कोर्ट में पेश हुई। कोर्ट में पेशी के बाद रेखा को पुलिस प्रोटेक्शन के साथ कोर्ट कैंपस से बयान दिलाकर मेडिकल के लिए सदर अस्पताल लाया गया।

अपने ऊपर लगे आरोप के बारे में उसने कहा, ‘पति ने गोली मारने की धमकी दी थी इसलिए डर से अपनी बहन के यहां गई थी।’ मुखिया ने बताया, ‘पति से अनबन हुआ था। इसके बाद गुस्सा कर अपने बहन के यहां चली गई थी।’ महिला मुखिया से कथित प्रेमी संजय के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘उससे हमारा कोई संबंध नहीं है। संजय को जानती तक भी नहीं है।’

9 मार्च को तीन बच्चों और पति को छोड़कर गायब हुई
दरअसल, अपने तीन बच्चों और पति को छोड़कर गायब हुई मुखिया रेखा देवी पूरे बिहार के लिए चर्चा का विषय बन गई थी। काफी खोजबीन के बाद पति ने अपहरण का मामला दर्ज कराया है। इसमें गांव के ही तीन लोगों को आरोपित किया गया। मुखिया पति ने बताया कि 9 मार्च को सुबह टहलने के दौरान गायब हो गई थी। इसके बाद से मुखिया की काफी तलाश किया। बावजूद नहीं मिली और उसका मोबाइल भी स्विच ऑफ आ रहा था।

पति ने पत्नी के अपहरण की FIR कराई
इसके बाद पति ने 15 मार्च को थाने में अपनी पत्नी के अपहरण होने का मामला दर्ज कराया। थाने को दिये गये आवेदन में संजय को मुख्य आरोपित बनाया। इसमें बताया गया है कि शादी की नीयत और महिला पति के व्यक्तिगत छवि को धूमिल करने के उद्देश्य से बहला फुसलाकर ले गया है।

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply