सीतामढ़ी जिले वासियों की वर्षों पुरानी सपना अब साकार होने के अत्यंत करीब है। धार्मिक, ऐतिहासिक एवं भावनात्मकरूप से जुड़ी लखनदेई नदी अपने मूल स्वरूप में जल्द ही नजर आएगी।

इस कार्य को तीव्र गति देने को लेकर जिला पदाधिकारी सुनील कुमार यादव द्वारा सोनबरसा प्रखंड के खाप खोपरहा पंचायत में बन रहे लखनदेई लिंक चैनल निर्माण कार्य योजना का औचक निरीक्षण किया गया।

निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी ने उपस्थित वरीय अधिकारियों एवम अभियंताओं के साथ-साथ इतिहासकार राम शरण अग्रवाल, प्रो0 आनंद किशोर आदि से लखनदेई नदी की तकनीकी, भौगौलिक, ऐतिहासिक एवं धार्मिक पहलुओं पर विस्तार से चर्चा किया।

जिला पदाधिकारी द्वारा पुरानी धारा एवं नई लिंक चैनल के निर्माण कार्य का विस्तृत निरीक्षण किया गया। गौरतलब हो कि लखनदेई नदी के पुरानी धार का उड़ाहीकरण एवं लखनदेई लिंक चैनल निर्माण योजना (वर्ष 2017-18) में जल विस्सरण प्रमण्डल सीतामढ़ी द्वारा प्रारंभ कराया गया।

इसमें प्रथम चरण में पुरानी धार से पिताम्बरपुर तक का (18.00 कि.मी.) उड़ाहीकरण कार्य मई 2018 में ही पूर्ण करा लिया गया था। सोनबरसा प्रखण्ड के छोटी भासर ग्राम से दुलारपुर घाट तक 3 की.मी. लिंक चैनल का निर्माण कार्य भूमि अधिग्रहण के कारण नहीं हो पाया था जिसे अब भूमि रैयतों से बातकर दुलारपुर घाट से लिंक चैनल का निर्माण कार्य प्रारम्भ कराया जा चुका है।

जिला पदाधिकारी ने संबधित अधिकारियों को जल्द से जल्द कार्य को पूरा करने का निर्देश दिया हैं। जिला पदाधिकारी द्वारा लिंक चैनल छोटी भासर, खाप एवं दुलारपुर घाट का भी निरीक्षण किया गया।

बताते चलें कि अब शीघ्र ही लखनदेई अपने मूलस्वरूप में लौटेगी। साथ ही सरकार के जल-जीवन-हरियाली अभियान को एक बड़ी गति भी प्रदान करेगी। लखनदेई नदी का नेपाल भाग से लिंक होते ही लखनदेई की अविरलता काफी बढ़ जाएगी जिससे जिले के किसानों को सिंचाई हेतु सुविधा भी बढ़ेगी।

वहीं, धार्मिक दृष्टिकोण से भी इस नदी का बहुत महत्वपूर्ण स्थान है जो की धारा मुड़ जाने के कारण लुप्त पराई हो गई थी। इस लिंक चैनल का निर्माण से लखनदेई नदी पुनर्जीवित हो जाएगी। इसके साथ ही धार्मिक अनुष्ठानों में लखनदेई नदी का उपयोग किया जा सकेगा। नदी की धारा स्वच्छ निर्मल हो जाएगी।

उक्त निरीक्षण में उप विकास आयुक्त विनय कुमार, ओएसडी सौरभ कुमार, प्रखंड विकास पदाधिकारी सोनबरसा, थानाध्यक्ष के साथ लिंक चैनल निर्माण कार्य से संबंधित तकनीकी पदाधिकारी एवं पंचायत के जनप्रतिनिधि तथा भूमि मालिक आदि उपस्थित थे।

SITAMARHI LIVE | TEAM.

सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के व्हाट्सएप ग्रुप में ऐड होने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के यूट्यूब चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.
सीतामढ़ी लाइव न्यूज़ के ट्विटर हैंडल से जुड़ने के लिए क्लिक करें.

Leave a Reply